सोनभद्र - बलुई बांध टूटा,मौके पर पहुँचे जिलाधिकारी समेत जिले के आलाधिकारी

सोनभद्र समाचार



  • सलखन माइनर के हेड के बगल दरार आ जाने के कारण बलुई बंधी के हेड के बगल से बह रहे पानी ने पकड़ा रफ्तार
  • पानी के तेज बहाव से पास के कई घरों मे घुसा पानी,कई गाँव मे घुसा पानी, सटे गाँवो के घरों को खाली कराया गया 
  • बारिश नही रूकी तो बलुई बंधी केवटा,पथरहा महुआँव समेत कई गाँव के लोग होगे प्रभावित,
नौशाद अन्सारी
ब्यूरो,सोनभद्र उर्जांचल टाइगर 

रूक रूक कर हो रहे बरसात से बलुई बंधी में पानी इकट्ठा हो जाने के कारण दबाव न सहन हो जाने के कारण सलखन माइनर के हेड के समीप बलुई बंधी टुट जाने के कारण पानी का बहाव तेज हो जाने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है जैसे ही यह खबर जिले के आलाधिकारी को लगी की हाथ पाँव फुलने शुरू हो गये ग्रामीणों की सूचना पर पहुँचे 

जिलाधिकारी सोनभद्र अमित कुमार सिंह,पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह,अपर जिलाधिकारी उमाकात त्रिपाठी,अपर पुलिस अधीक्षक मुख्यालय अरूण कुमार दिक्षित, उपजिलाधिकारी सदर रार्बट्सगंज शादाब असलम, समेत बंधी खण्ड के अधिकारी मौके पर पहुँच कर बलुई बंधी के सलखन माइनर के बगल मे पानी के तेज बहाव को बाँस व पेड़ की डालिया बोरी में बालु डालकर पानी को रोकने का प्रयास किया गया किंतु तेज गति से बह रहे पानी बन्द करने की सफलता नहीं मिल पाई कोशिश करते रहे 

शाम तक बंधी से बह रहे पानी को बंद करने की सफलता जिला प्रशासन को सफलता नही मिल पायी जिससे कई सटे दर्जनों घर अपने चपेट मे ले लिए और आप -पास के सटे गाँवो के लोग अपने घरों को खाली कर सुरक्षित स्थान पर चलें गये है और करगरा-मितापुर मार्ग को बैरकेटिव लगाकर ट्रैफ़िक बदं कर दिया है जिससे दर्जनों गावो के लोगों का मेन रोड पर आने का सम्पर्क टूट गया है उधर क्षेत्र के लोगों का कहना है कि मई माह में सलखन माइनर का मैटनेन्स का कार्य किया गया था तो बंधी में कैसे दरार आ गयी यह बंधी खण्ड के अधिकारियों के लापरवाही से बंधी में तरार पड़ा है यदि समय रहते बधी को सही देख रेख का कार्य किया गया होता तो आज यह नौबत नहीं आती बंधी खण्ड के अधिकारियों पर कार्रवाई की माँग जिला प्रशासन से किए जाने लगा। फिलहाल थक हार के जिलाप्रशासन द्वारा सायं को एनडीआरएफ की टीम को बुलाया है।

अपडेट-भारी बरसात के कारण बलुई बांध में अधिक जल जमाव हो जाने कारण रिसाव होने लगा जिससे 10-15 फीट होल हो गया जिसकी सुचना पर मौके पर जिलाधिकारी महोदय व पुलिस अधीक्षक सोनभद्र पहुँच कर उपलब्ध संसाधनो से बचाव कार्य किया गया व मौके पर 10 थानों की फोर्स एवं एनडीआरएफ की टीम लगाकर आवश्यक राहत कार्य किया जा रहा है। जनपद मे बाढ़ कन्ट्रोल रुम स्थापित है जनपद मे 4 अस्थायी बाढ़ राहत चौकिया गुरमा, केवटा, पथरहा,गंगटी में स्थापित कर दी गयी है पीएसी की फ्लड कम्पनी आकर थाना चोपन पर पर कैम्प कर रही है जिससे आवश्यकता अनुसार विकट परिस्थिति मे हर सम्भव मदद की जायेगी।
Labels:
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget