कोन एसएचओ अंजनी मिश्रा ने आपरेशन मुस्कान के तहत गायब हुये बालक को बरामद कर उसके परिजनों को सौंपा

सोनभद्र समाचार

नौशाद अन्सारी
ब्यूरो, सोनभद्र, उर्जान्चल टाइगर 

कोन एसएचओ अंजनी मिश्रा की नेक पहल।आपरेशन मुस्कान के तहत गायब हुये बालक को बरामद कर उसके परिजनों को सौंपा।आपको बताते चलें के गुमशुदा बच्चों व बाल मजदूरी से छुड़ाने के लिए यूपी पुलिस द्वारा ऑपरेशन मुस्कान चलाया जा रहा है।इस अभियान को सफल बनाने के लिए न सिर्फ थाना पुलिस बल्कि स्वयं सेवी संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाता है।इसमें लापता बच्चों का रिकॉर्ड ढूंढकर उन्हें उनके परिजनों से मिलवाने का प्रयास किया जाता है।

कोन थाना क्षेत्र के बागेसोती से 2011 में बबलु कुमार(14वर्ष) पुत्र रामबदन झारखंड के डालटनगंज से संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गया था।उस समय बबलु के परिजनों ने उसके गुमशुदगी की रिपोर्ट डालटनगंज में दर्ज करायी थी।इसके बाद 2015 में झारखंड से एक बच्चे की लाश बरामद हुआ थी।जिसको बबलु के परिजनों ने शिनाख्त कर उसे बबलु समझकर उसका दाह संस्कार भी कर दिया था।इसी बीच कोन एसएचओ अंजनी मिश्रा को पता चला के बागेसोती से गायब हुआ बालक डालटनगंज से भटक कर कटक उड़ीसा में चला गया है।उसके बाद अंजनी मिश्रा ने बबलु कुमार को कटक उड़ीसा से बबलु कुमार को बरामद कर उसके माता पिता को सौंप दिया।वहीँ अपने पुत्र को पाकर बबलु के माता पिता के खुशी का ठिकाना नहीं रहा।बबलु के माता पिता का कहना था के हम लोग तो अपने बच्चे को मरा जानकर उसका दाह संस्कार तक कर दिये थे।लेकिन अंजनी मिश्रा जी के अथक प्रयास से मेरा बच्चा मुझे मिल गया।इतना कहते ही उन लोगों के आँखों से अश्रु की धारा फुट पड़ी।और सोनभद्र पुलिस को साधुवाद दिया।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget