2019 में बंटी चौधरी जमुई लोकसभा क्षेत्र से हो सकते हैं महागठबंधन के प्रत्याशी

बंटी चौधरी


नई दिल्ली 
ब्यूरो,उर्जांचल टाइगर 
2019 लोकसभा चुनाव में अभी काफी समय है,लेकिन जमुई में राजनीतिक सरगर्मियां तेज है,कारण यहां की जनता मौजूदा सांसद के कार्यो से संतुष्ट नहीं। वहीँ जमुई और आसपास के इलाके में विधायक बंटी चौधरी की लोकप्रियता चरम पर है।स्थानीय लोगों की माने तो 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के लोकप्रिय युवा नेता बंटी चौधरी सबसे बेहतर विकल्प हैं। 

कांग्रेस पार्टी ने बतौर कार्यकर्ता इनके बेहतर प्रदर्शन को देख कर जब विधायक का चुनाव लड़ने का मौक़ा दिया तब उन्होंने पहली बार में हीं विधानसभा जीत कर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के समक्ष अपनी योग्यता पेश कर दी,सूत्र बताते हैं उनकी लोकप्रियता और जन सेवा के देखते हुए पार्टी में आगामी लोकसभा प्रत्यासी बनाने की चर्चा है। 

ज्ञात हो की रामविलास पासवान के पुत्र और बॉलीवुड कलाकार जमुई लोकसभा क्षेत्र से सांसद है। जमुई क्षेत्र की जनता ने मोदी लहर में चिराग पासवान को समर्थन तो दे दिया था मग़र अब जनता में बेचैनी नज़र आ रही है। 

जमुई लोकसभा क्षेत्र अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है। 2014 के लोकसभा चुनाव में लोजपा से चिराग़ पासवान, राजद से सुधांशु भाष्कर और जदयू से उदय नारायण चौधरी लोकसभा प्रत्याशी थे। यह विडंबना ही है कि तीनों उम्मीदवारों जमुई क्षेत्र से बाहर के रहने वाले है। इसलिए, इसबार जमुई की जनता में क्षेत्रीय एवं बाहरी की चर्चा जोर-शोर से जारी है। 

चूंकि चिराग पासवान युवा है इसलिए इनके विरोध में एक क्षेत्रीय युवा उम्मीदवार ही चाहिए जो चिराग पासवान को टक्कर दे सके। ऐसे में लोगों की नज़र सिकंदरा से काँग्रेस के 32 वर्षीय विधायक बंटी चौधरी की तरफ़ टिकी हुई है। राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा जोरों-शोर से चल रही है कि इसबार जमुई लोकसभा क्षेत्र काँग्रेस के हाथों में जाएगी और उम्मीदवार बंटी चौधरी होंगे।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget