प्रबंधन ने आदेश लिया वापस, विधुत मज़दूर पंचायत उ0प्र0 ने स्थगित किया आन्दोलन

विधुत मज़दूर पंचायत


वाराणसी। विधुत मज़दूर पंचायत उ0प्र0 द्वारा अल्पवेतनधारी निविदा कर्मियों को अध्यक्ष पावर कारपोरेशन द्वारा गृह तहसील से बाहर तैनाती के आदेश के खिलाफ चलाये जा रहे चरनवद्ध आंदोलन को प्रबन्धन से हुई सकारात्मक वार्ता के बाद वापस ले लिया है।

अंकुर पाण्डेय मण्डल मंन्त्री विधुत मज़दूर पंचायत उ0प्र0, वाराणसी। ने बताया कि दिनाँक:- 31.08.2018 को पावर कारपोरेशन के प्रबन्ध निदेशक की विधुत मज़दूर पंचायत के पदाधिकारियों से हुई सकारात्मक वार्ता का विवरण न मिल पाने के कारण संगठन को बाध्य होकर अपने द्वितीय चरण के आंदोलन में दिनाँक:-1 सितम्बर 2018 को पूरे प्रदेश में एकदिवसीय कार्यबहिष्कार किया गया जिससे पूरे प्रदेश में बिजली संबंधित समस्याएं अधिकारियो के लिए सरदर्द बनी रही। अन्ततः देररात जाकर संगठन की प्रबन्धन से हुई सफल वार्ता का विवरण संगठन को एवं सभी डिस्कामो को भेजी गई जिसपर पंचायत ने अपना कल दिनाँक 5 सितम्बर से पूरे प्रदेश में अनिश्चितकालीन कार्यबहिष्कार का निर्णय वापस ले लिया। वार्ता में यह तय हुआ कि किसी भी निविदा कर्मी को उनके गृह तहसील से बाहर नही भेज जाएगा बल्कि उन्हें उनके गृह फीडर पर तैनाती नही दी जाएगी।

पावर कारपोरेशन खुद पहल करके योग्य और अनुभवी निविदा कर्मियों को प्रोत्साहित भी करेगा।निविदा कर्मचारियों की आयु 18-40 वर्ष की जगह 18-55 वर्ष कर दी गयी है।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget