सर सुन्दरलाल चिकित्सालय - मरीज़ों को उच्च कोटि की चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है।

आर्इ0आर्इ0टी (बी0एच0यू0) तकनीकि समस्याओं के समाधान हेतु शुरू करेगा ‘‘सिंगल विन्डोसिस्टम’’


अजीत नारायण सिंह 
ब्यूरो,वाराणसी, उर्जांचल टाइगर 

सर सुन्दरलाल चिकित्सालय ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय समाज के पिछड़े क्षेत्रों के निवासियों के लिए उपयुक्त शैक्षणिक सुविधाओं तथा नवीन अनुसंधान से लाभान्वित होने का अवसर उपलब्ध कराना है। यह बातें प्रो0 वी.एन. मिश्रा, चिकित्सा अधीक्षक,ने प्रेस वार्ता में कही।

सर सुन्दरलाल चिकित्सालय के नेत्र विभाग को भारत सरकार द्वारा Reasonal Institute of Ophthalmology (ओप्थाल्मोलॉजी संस्थान) का दर्जा प्रदान किया गया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा नेत्र विभाग को रू0 38.58 करोड़ की धनराषि स्वीकृत की गयी है जिसे संस्थान के विकास में प्रयोग किया जाना है। आप सभी के सहयोग एवं योगदान से जुलाई 2018 से मरीज़ों के परिजनों को भी संध्याकालीन निःशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। 

भारत सरकार की यह योजना है कि समाज के अन्तिम व्यक्ति तक उच्च कोटि स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करायी जाये। सर सुन्दरलाल चिकित्सालय अपने मरीज़ों को उच्च कोटि की आधुनिक चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है। 

स्वास्थ्य केन्द्र में प्रारम्भिक तौर पर निम्न सुविधाएं उपलब्ध होगीं 

1. मेडिसिन बहिरंग विभाग 
2. आयुर्वेद बहिरंग विभाग 
3. दन्त चिकित्सा बहिरंग विभाग 
4. नेचुरोपैथी बहिरंग विभाग 
5. एक्स-रे की सुविधा 
6. सी.सी.आई. में होने वाली रक्त संबंधित सभी जांच की सुविधा 
7. गंभीर रागियों को सर सुन्दरलाल चिकित्सालय तक लाने के लिए आई.सी.यू. एम्बुलेन्स की सुविधा। 

स्वास्थ्य केन्द्र के सुचारू संचालन के लिए दो स्थायी चिकित्सा अधिकारियों के पद पर अतिशीघ्र नियुक्त किया जाएगा,साथ ही पैरा मेडिकल स्टाफ तथा मल्टीटास्किंग स्टाफ उपलब्ध कराये जा चुके हैं। सर सुन्दरलाल चिकित्सालय द्वारा भविष्य में राजीव गांधी दक्षिणी परिसर में 500 बिस्तरों का एक चिकित्सालय,जिसमें 100 बिस्तरों पर नेचुरोपैथी विधि से रोगियों का इलाज किया जाना प्रस्तावित है।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget