वाराणसी-धसक गया वरूणा कॉरिडोर कभी भी हो सकता है धाराशायी

वरूणा कॉरिडोर


पुल से ही दिखायी दे रहे कॉरिडोर रेलिंग के नीचे बङे बङे होल,छुने से ही कांप रही रेंलिग !

अंकुर पटेल
विशेष संवाददाता,उर्जांचल टाइगर 
शहर मे सङक धसने की खबरे तो आप पढते ही रहते है लेकिन आने वाले दिनो मे यदि आपको वरूणा कॉरिडोर धसने की खबर मिले तो आश्चर्य नही होना चाहिए क्योकि 2016मे अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत शुरु हुये वरुणा कॉरिडोर भ्रष्टाचार की भेट चढ चुका है।अभी एक तिहाई भी काम पुरा नही हुआ लेकिन जितना काम हुआ बताया या दिखाया जा रहा है वह धसना शुरु हो गया है रेलिंग के नीचे बहुत बङे इलाके मे दो फीट मट्टी या तो बैठ गयी है या बह गयी है देखने मे ही पुरा दृश्य काफी डरावना लग रहा है। 

दर असल आज अपने निवास से सुबह कचहरी जाते वक्त बनारस बार के पुर्वमहामंत्री नित्यानन्द राय को पुल से ही रेलिंग के नीचे जहा तक नजर जा रही थी वहा तक बहुत बङा होल नजर आया। शाम चार बजे पुर्व महामंत्री नित्यानन्द राय पुर्व उपाध्यक्ष अंशुमान दुबे के साथ वरुणा कॉरिडोर का मुआयना करने पहुच गये पुरे क्षेत्र मे भ्रमण करने के बाद यह पाया कि वरूणा कॉरिडोर के पाथवे और रेंलिंग के नीचे से बहुत बङे इलाके मे मट्टी बह चुकी है ओर कॉरिडोर कभी भी धस सकता है,तुरंत इ मेल और ट्वीट करके देश के प्रधानमंत्री और बनारस के सांसद नरेन्द्र मोदी,मुख्यमंत्री योगीजी से इस बात की शिकायत की। 

  • मांग की कॉरिडोर के निर्माण मे बहुत बङा घोटाला हुआ है,मानक और गुणवत्ता का ख्याल नही रखा गया,जिसका परिणाम यह हुआ है कि अभी निर्माण पुरा भी नही हुआ और कारिडोर ढहने के कगार पर पहुच चुका है। 

  • माग किया कि वरूणा कॉरिडोर मे बाढ के नाम पर,आग लगाकर जो घोटाला किया गया है उसकी जांच सी बी आई से की जाय।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget