बिना प्रमाणन राजनैतिक विज्ञापन प्रशारित करने पर होगी कार्यवाही - कलेक्टर

एक ही उम्मीदावार के पक्ष में लगातार एक जैसे समाचार प्रकाशित होना भी पेड न्यूज कि श्रेणी मे आयेगा

  • एक ही उम्मीदावार के पक्ष में लगातार एक जैसे समाचार प्रकाशित होना भी पेड न्यूज कि श्रेणी मे आयेगा
  • इलेक्ट्रानिक तथा शोसल मीडिया पर जारी होने वाले आडियो विजुवल विज्ञापनो को जिला स्तारीय एमसीएमसी से प्रमाणन कराना आवश्यक होगा।
  • धार्मिक स्थलो तथा धार्मिक कार्यक्रमो में चुनाव प्रचार कि अनुमति नही है। 
सिंगरौली।। कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तारीय स्टैंडिंग कमेधार्मिक स्थलो तथा धार्मिक कार्यक्रमो में चुनाव प्रचार कि अनुमति नही है। टी कि बैठक आयोजित कि गई। बैठक में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग चौधारी ने मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलो के प्रतिनिधियो तथा पत्रकारो को पेड न्यूज से संबंधित जानकारी दी। 

बैठक में चुनाव कि आदर्श आचरण संहिता, जिला मीडिया प्रमाणन एवं निगरानी समिति के कार्यो, वाहनो तथा जूलूश के लिए अनुमति एवं कानून और व्यवस्था बनाऐ रखने के लिए किये जा रहे उपायो कि जानकारी दी गई।

बिना प्रमाणन राजनैतिक विज्ञापन प्रशारित करने पर कार्यवाही कि जायेगी। 

बैठक मे कलेक्टर ने कहां कि विधानसभा निर्वाचन के दौरान चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार तथा राजनैतिक दल निर्वाचन आयोग के निर्देशो का पालन करे। इलेक्ट्रानिक तथा शोसल मीडिया पर जारी होने वाले आडियो विजुवल विज्ञापनो को जिला स्तारीय एमसीएमसी से प्रमाणन कराना आवश्यक होगा। बिना प्रमाणन राजनैतिक विज्ञापन प्रशारित करने पर कार्यवाही कि जायेगी। आवेदन करने पर समिति 48 घण्टे कि समय सीमा में अनुमति प्रदान करेगी। प्रिंट मीडिया में विज्ञापन जारी करने के लिए प्रमाण कि आवश्यकता नही होगी। लेकिन विज्ञापन का खर्च उम्मीदवार के चुनाव खर्च में जोड़ा जायेगा। 

क्या है पेड न्यूज 

किसी उम्मीदवार के पक्ष में तीन या तीन से अधिक समाचार पत्र में समान शीर्षक समान भाषा तथा विवरण के समाचार प्रकाशित होते है तो उसे पेड न्यूज माना जायेगा। एक ही उम्मीदावार के पक्ष में लगातार एक जैसे समाचार प्रकाशित होना भी पेड न्यूज कि श्रेणी मे आयेगा पेड न्यूज प्रकाशित होने पर उसकी राशि उम्मीदवार के खर्च में जोड़ी जायेगी। पेड न्यूज का प्रकरण बनने पर उम्मीदवार एक माह कि समय सीमा पर राज्य स्तारीय एमसीएसी समिति में अपील कर सकता है। 

राजनितिक उम्मीदवारों के लिए ऑनलाइन सुविधा 

कलेक्टर ने बताया कि उम्मीदवार द्वारा सभा करने जूलूश, लाउडीस्पीकर के उपयोग आदि कि अनुमति के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित किये गए सुविधा साफ्टवेयर में आनलाईन आवेदन करना होगा। आवयश्यक जानकारिया तथा अभिलेख दर्ज कराने पर इनकी अनुमति आनलाईन ही प्राप्त होगी इसके लिए उम्मीदवार किसी कार्यालय में जाने कि आवश्यकता नही होगी। सभी राजनैतिक दल तथा उम्मीदवार चुनाव प्रचार के समय आदर्श आचर संहिता का पालन करे। किसी भी शासकीय भवन अथवा उसके परिसर में चुनाव प्रचार समांग्री न लागाऐ निजि भवनो में भी भवन मालिक के लिखित अनुमति के बाद ही प्रचार समांग्री लगाये अनुमति न होने पर प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही कि जायेगी।

धार्मिक स्थलो तथा धार्मिक कार्यक्रमो में चुनाव प्रचार कि अनुमति नही है। 

कलेक्टर ने कहां कि जन प्रतिनिधि तथा उम्मीदवार एवं पार्टी पदाधिकारी धार्मिक कार्यक्रमों में चुनाव प्रचार न करे। धार्मिक स्थलो तथा धार्मिक कार्यक्रमो में चुनाव प्रचार कि अनुमति नही है। वे वक्ति कि हैसियत से कार्यक्रम शामिल हो सकते है। चुनाव प्रचार के दौरान कोलाहल नियंत्रण अधिनियम का भी पालन करे रात 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक लाउडीस्पीकर तथा अन्य ध्वनि विस्तारक यंत्रो उपयोग न करे। पूजा पंण्डालो में भी इस नियम का पालन सुनिश्चित कराया जायेगा। राजनैतिक उद्देश्यो कि पुर्ति अथवा चुनाव प्रचार के लिए धर्मिक आयोजन न करे। निर्वाचन से जुड़ी प्रमुख घटनाओं कि वीडियो ग्राफी अनिवार्य रूप से कि जायेगी। आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करने पर एफआइआर दर्ज कर कार्यवाही कि जयोगी।

बैठक में पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल, वन मण्डल अधिकारी विजय सिंह, जिला पंचायत के मुख्यकार्य पालन अधिकारी प्रियंक मिश्रा, अपर कलेक्टर ऋजु बाफना, आयुक्त नगर पालिक निगम शिवेन्द्र सिंह, डिप्टी कलेक्टर सम्पदा सर्राफ, सभी रिटर्निंग आफिसर, पत्रकार गण तथा राजनैतिक दलो के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget