कलाम साहिब के सपनों के भारत को साकार करने की दिशा में एक कदम - अख्तर

जनता के प्रेसिडेंट डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम की याद में एक दिवसीय सेमिनार



सग़ीर ए खाकसार
वरिष्ठ पत्रकार,@उर्जांचल टाइगर 

लखनऊ,14 अक्टूबर। जनता के प्रेसिडेंट डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम की याद में एक दिवसीय सेमिनार"ए पी जे अब्दुल कलाम के सपनों का भारत और राष्ट्र निर्माण में शिक्षा की भूमिका"का आयोजन 15 अक्टूबर को उनकी 88 वीं जयंती के मौके पर तालीमी बेदारी द्वारा किया गया है।अंतरराष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान गोमतीं नगर लखनऊ में हो रहे सेमिनार के मुख्य अतिथि सुपर 30 पटना, बिहार के आनंद कुमार होंगें।

तालीमी बेदारी के महामंत्री निहाल अहमद ने बताया कि उक्त सेमिनार में देश/प्रदेश के जाने माने शिक्षाविद/सामजिक कार्यकर्ता हिस्सा लेंगे।श्री निहाल ने बताया कि सेमिनार में विशिष्ट अतिथि के रूप में एरा युनिवेर्सिटी के वाईस चांसलर प्रो0 अब्बास अली मेहदी और सोशल एक्टिविस्ट और उद्यमी अख्तर हुसैन(दुबई)होंगे।अध्यक्षता के एम सी उर्दू,अरबी फारसी युनिवेर्सिटी के पूर्व वीसी अनीस अंसारी करेंगें।संचालन तालीमी बेदारी के प्रदेश अध्यक्ष सग़ीर ए खाकसार करेंगें।

तालीमी बेदारी के संगठन मंत्री डॉ शेख अकील ने बताया की सेमिनार में मेधावी छात्र /छात्राओं को उक्त सेमिनार में सम्मानित भी किया जाएगा।डॉ आरिज़ क़ादरी ने बताया कि समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने वालों को भी सम्मानित किया जाएगा।संस्था के अध्यक्ष डॉ वसीम अख्तर ने बताया कि सेमिनार में आईआईटी की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए एक घंटे का अलग से कांउसलिंग का प्रोग्राम भी रखा गया है,जिसमें सुपर 30 के आनंद कुमार छात्रों के सवालों का जवाब भी देंगे।श्री अख्तर ने बताया कि इस सेमिनार का मुख्य उद्देश्य कलाम साहिब के सपनों के भारत को साकार करने की दिशा में एक कदम है।उनकी सोंच और उनके दर्शन समस्त मानवता के लिए हैं। भारत को विश्वगुरु बनाने के लिए हमे कलाम साहिब के बताए हुए रास्ते पर चलना होगा।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget