मध्यप्रदेश में गौवंश संरक्षण और संवर्धन के लिये गौ मंत्रालय की स्थापना की जायेगी।-CM शिवराज

मध्यप्रदेश में बनेगा गौ मंत्रालय !


न्यूज डेस्क 
डिजिटल टीम,उर्जांचल टाइगर 

संभवतःमध्यप्रदेश भारत का पहला राज्य होगा जहां गौवंश संरक्षण और संवर्धन के लिये ‘गौ मंत्रालय’ की स्थापना की जाएगी।

छतरपुर जिले के खजुराहो में आचार्य श्री विद्यासागर जीव दया सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘‘मध्यप्रदेश में गौवंश संरक्षण और संवर्धन के लिये गौ मंत्रालय की स्थापना की जायेगी।’’ उन्होंने कहा कि विभिन्न जगहों पर स्थान की उपलब्धता के अनुसार गौ-अभयारण्य और गौशालाएँ बनायी जायेंगी।

उन्होंने कहा कि गौशाला और गौ-अभयारण्य में वृद्ध गायों के इलाज के लिये चिकित्सकों की पर्याप्त व्यवस्था की जायेगी।
चौहान ने कहा कि हमें गर्व है कि हम आचार्य विद्यासागर जैसे महान संत के युग में पैदा हुए हैं, जिनका जीवन मानव-कल्याण के लिये समर्पित है। उन्होंने कहा कि 'अहिंसा परमोधर्म:' का सिद्धांत दुनिया को सभी जीवों के जीने के हक का संदेश देता है।

मुख्यमंत्री ने समारोह में विद्यासागर जीव दया सम्मान से आचार्य श्री विद्यासागर, दयोदय पशु सेवा केन्द्र, तेंदूखेड़ा (दमोह) को प्रथम, गौ-शाला एवं जैव कृषि अनुसंधान केन्द्र, केदारपुर (ग्वालियर) को द्वितीय और गौत्रास निवारणी गोपाल गौ-शाला, बड़नगर (उज्जैन) को तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया। सात अन्य संस्थाओं और व्यक्तियों को सांत्वना पुरस्कार प्रदान किये गये।

इस मौके पर प्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया और मध्यप्रदेश गौ संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष स्वामी अखिलेश्वरानंद भी मौजूद थे।

Adv.
लेबल:
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget