गौरव सिंह सोगरवाल ने सर सुंदरलाल चिकित्सालय में परिवीक्षाधीन अधिकारी के रूप में कार्य भार संभाला

सर सुंदरलाल चिकित्सालय


अजीत नारायण सिंह
वाराणसी ब्यूरो ,उर्जांचल टाइगर



चिकित्सा विज्ञान संस्थान के चिकित्सकों एवं विश्वविद्यालय के छात्रों के बीच होने वाले बार बार के टकराव तथा चिकित्सालय की विभिन्न सेवाओं पर बारम्बार उठने वाले तमाम सवालों के समुचित अन्वेषण तथा निदान हेतु प्रशासन ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के परिवीक्षाधीन अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल को चिकित्सालय में नियुक्त किया है। 

2017बैच के यू.पी.कैडर के आई.ए.एस. अफसर गौरव सिंह सोगरवाल जिन्होंने आज ( 03.10.2018)अपना कार्य भार संभाल लिया। इन्हें वाराणसी जिले के संयुक्त मजिस्ट्रेट पद के साथ यह अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है। 

ज्ञात हो की सितम्बर माह की 24 तारीख की शाम चिकित्सालय के महिला सर्जेरी वार्ड में चिकित्सकों तथा मरीज के परिजनों के बीच उत्पन्न विवाद ने मार पीट का रूप ले लिया था जिसका प्रभाव चिकित्सालय के काम काज के साथ साथ परिसर के बाहर की क़ानून व्यवस्था पर भी पड़ा। 

विश्वविद्यालय तथा परिसर के बाहर के माहौल को संभालने के लिए जिला प्रशासन तथा विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच कई चक्र में बैठक हुई। इसके उपरांत ही जिला प्रशासन ने गौरव सिंह सोगरवाल को विश्वविद्यालय में अपना प्रतिनिधि बना कर भेजा है जो अस्पताल की व्यवस्था को और चाक चौबंद करने हेतु अस्पताल प्रशासन का सहयोग करेंगे। वे अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने हेतु विश्वविद्यालय द्वारा चिन्हित असामाजिक तत्वों पर नकेल भी कसेंगे। गौरव सिंह सोगरवाल की प्राथमिकता सुगम तथा सुचारु चिकित्सा व्यवस्था बनाये रखने के अलावा कर्मचारियों की कार्मिक एवं नैतिक जिम्मेदारियां भी सुनिश्चित करना रहेगा।
लेबल:
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget