युवाओं को बुजुर्गों के व्यापक अनुभवों से सीख लेनी चाहिए।-डॉ अनूप

बुजुर्ग दिवस


अजित सिंह 
ब्यूरो वाराणसी,उर्जांचल टाइगर 
संपूर्ण विश्व में बुजुर्गों के प्रति होने वाले अन्याय और उनके साथ दुर्व्यवहार पर लगाम लगाने के साथ-साथ वृद्धों को उनके अधिकारों के प्रति जागरुक करने के उद्देश्य से 14 दिसंबर, 1990 के दिन संयुक्त राष्ट्र ने यह निर्णय लिया कि हर साल 01 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इससे बुजुर्गों को भी उनकी अहमियत का अहसास होगा और समाज के अलावा परिवार में भी उन्हें उचित स्थान दिलवाया जा सकेगा। सबसे पहले 01 अक्टूबर, 1991 को बुजुर्ग दिवस मनाया गया और तब से इसे हर साल इसी दिन मनाया जाता है।

इस दिन को मनाने का उद्देश्य जनमानस में वृद्ध लोगों के लिए संवेदना जगाना है और उन्हें सम्मान देना है। जैसा कि हम सब जानते हैं कि वृद्ध लोगों की संख्या पूरे विश्व में बहुत तेजी से बढ़ रही है और यह लगभग 2030 तक 18 से 20% तक हो जाएगीl इसके मद्देनजर सरकार ने विभिन्न योजनाएं वृद्ध लोगों के लिए बनाए हैं जिनमें से नेशनल प्रोग्राम फॉर हेल्थ केयर ऑफ द एल्डरली स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से पूरे देश भर में चलाया जा रहा है. इस संदर्भ में 1 अक्टूबर को भेलूपुर स्थित राजकीय वृद्धा महिला आवास मैं एक स्वास्थ्य शिविर का आयोजन श्री लक्ष्मण आचार्य, उपाध्यक्ष BJP, सदस्य विधान परिषद उत्तर प्रदेश के संरक्षण में करवाया गया जिसमें डिपार्टमेंट ऑफ जिरियाट्रिक मेडिसिन BHU के विभागादक्ष एवं नेशनल प्रोग्राम फॉर हेल्थ केयर ऑफ एल्डरली के नोडल ऑफिसर डॉक्टर अनूप सिंह और इंट्रडिसीप्लिनरी स्कूल ऑफ लाइसेंस BHU के डॉक्टर अभय ने योगदान दिया श्री लक्ष्मण आचार्य जी ने सरकार के विभिन्न योजनाओं के बारे भी अवगत कराया जो बुजुर्ग लोगों के लिए होती है।

डॉ अनूप ने बताया कि समाज के विकास के लिए युवाओं को बुजुर्गों का सम्मान और उनकी सेवा करनी सीखनी होगी हमारे धर्मग्रंथ भी यह संदेश देते हैं। युवाओं को बुजुर्ग लोगों के व्यापक अनुभवों से सीख लेनी चाहिए। बुजुर्ग भी अपने अनुभवों से समाज का मार्गदर्शन और ज्ञानवर्द्धन करने में योगदान दे सकते हैं। 

डॉ अभय सिंह ने बताया कि बढ़ती उम्र मैं मस्तिष्क से संबंधित रोगों के बारे में जागरूकता एवं सही इलाज जरूरी है तमाम जिरियाट्रिक मेडिसिन के स्टाफ बलवंत सिंह नेहा चौरसिया अभिषेक इत्यादि ने कार्यक्रम को सफल बनाने में योगदान दिया।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget