परमधर्म संसद 1008, के अपार सफलता से समस्त सनातनधर्मद्रोही हतोत्साहित हो गये।

परमधर्मसंसद 1008


जीत नारायण सिंह 
वाराणसी।।श्रीविद्या मठ में परमधर्म संसद 1008 के आयोजन के समीक्षा के लिये बैठक आयोजित हुई। जिसमें प्रवर धर्माधीश स्वामिश्री: अविमुक्तेश्वरानंद: सरस्वती जी महाराज के सानिध्य में परमधर्म संसद 1008 के आयोजन के समीक्षा हेतु परमधर्म संसद के मंत्रिमंडल की समीक्षा बैठक आहूत की गई।यह जानकारी  संजय पाण्डेय प्रेस प्रभारी परमधर्म संसद 1008 द्वारा दी गई।

बैठक को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने एक स्वर से परमधर्म संसद के ऐतिहासिक आयोजन व सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि परमधर्म संसद के आयोजन से धरातल व मार्गदर्शन के अभाव में किंकर्तव्य विमूढ़ की स्थित में पहुँच गयी सनातनी जनता को सनातनधर्म को सशक्त बनाने व योगदान प्रदान करने हेतु एक मजबूत धरातल की प्राप्ति हो गयी है। वक्ताओं ने कहा की कुछ छोटी मोटी त्रुटियां अवश्य रही हैं लेकिन इतने वृहद आयोजन को प्रथम बार मे इतनी अपार सफलता मिलने से हमलोगों को अनंत ऊर्जा की प्राप्ति हुई है और यह ऊर्जा अगले आयोजन को त्रुटिविहीन बनाने में सहयोग करेगा। वक्ताओं ने एक स्वर से कहा कि सनातनधर्म को नष्ट करने हेतु शक्तिशाली विधर्मी व राजनीतिज्ञों ने कोई कसर नही छोड़ी है और परमधर्म संसद के अपार सफलता से समस्त सनातनधर्मद्रोही हतोत्साहित हो गये हैं।

समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए परमधर्म संसद के प्रवर धर्माधीश स्वामिश्री: अविमुक्तेश्वरानंद: सरस्वती जी महाराज ने कहा कि जो धर्म की रक्षा करता है धर्म उसकी रक्षा करता है धर्म का अनुसरण ही हमे मनुष्य बनाता है धर्महीन मनुष्य पशु के समान है। महाराज श्री ने कहा कि दीये गये दायित्व का निर्वहन ही हमे एक जिम्मेदार नागरिक सिद्ध करता है जिस तरह से सहयोगियों ने सहयोग किया उन सब का हम हृदय से आभार करते हैं विशेष कर सिरगोवर्धन क्षेत्र के समस्त नागरिकों का जिन्होंने बिना किसी परिचय के अपना स्थान, निवास व भोजन सामग्री उत्साह से साथ प्रस्तुत किया था साथ में परमधर्म संसद 1008 को ऐतिहासिक सफल बनाने में अपना योगदान प्रदान करने वाले सन्तों, सदस्यों, समाजसेवियों, पत्रकारों सहित अपना नैतिक समर्थन प्रदान करने वाले समस्त आस्तिक जनों का मैं आभार ज्ञापित करता हूँ।

समीक्षा बैठक में प्रमुख रूप से सर्वश्री-महाराजमणि सनातन जी महाराज, योगेश्वरानंद ब्रमचारी, डॉ गिरीश चन्द्र तिवारी, प्रेस प्रभारी संजय पाण्डेय, योगेंद्र शास्त्री(जम्मू), चार्ल्स, शालिनी राजपूत, सुनीलशुक्ला, हरिनाथ दुबे, सुनील उपाध्याय, यतीन्द्र चतुर्वेदी, किशन जायसवाल, विनीत तिवारी, श्री प्रकाश पाण्डेय, सावित्री पाण्डेय, लता पाण्डेय, शारदा जी, डॉ अभय शंकर तिवारी, सतेंद्र मिश्रा, बी.रामचंद्रन अय्यर, रामचन्द्र सिंह, सतेंद्र मिश्रा, कमलेश तिवारी, हेमन्त तोषावर, मनीष तिवारी, सौरभ शुक्ला, मृदुल ओझा आदि लोग प्रमुख रूप से सम्मलित थे।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget