आर्म्स एक्ट में फरार पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने न्यायालय में किया आत्मसमर्पण

बुर्का पहन कोर्ट पहुंची फरार मंजू वर्मा ने किया सरेंडर

  • कुर्की जब्ती आदेश के विरुद्ध जिला जज में रिवीजन भी दाखिल
  • पूर्व मंत्री ने अग्रिम जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट में भी एसएलपी दाखिल की है
मुकेश कुमार
पटना।आर्म्स एक्ट में फरार चल रही पूर्व समाज एवं कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने आज मंझौल अनुमंडल न्यायालय में अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी प्रभात त्रिवेदी की न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया है। इजलास पहुंचते ही पूर्व मंत्री मंजू वर्मा बेहोश होकर गिर गई।जिसे इजलास पर ही डॉक्टरों द्वारा जांच किया गया।

बताते चले कि इसी मामले में न्यायालय के आदेश से पुलिस द्वारा पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर की कुर्की जब्ती की जा रही है। ज्ञात हो कि पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने अग्रिम जमानत के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश के यहां अग्रिम जमानत आवेदन संख्या 1909/18 दाखिल की थी। जिसे न्यायालय ने सुनवाई के बाद 25 अगस्त 2018 को खारिज कर दी फिर पूर्व मंत्री ने जमानत के लिए पटना उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत संख्या 56660/18 दाखिल की जहां पटना उच्च न्यायालय में भी उन्हें राहत नहीं मिली और उनकी अग्रिम जमानत आवेदन को 9 अक्टूबर को खारिज कर दी गयी। 

अग्रिम जमानत के लिए पूर्व मंत्री ने सुप्रीम कोर्ट में भी एसएलपी दाखिल की है मगर पुलिस की दबिश के कारण आखिरकार मंजू वर्मा को न्यायालय में आत्मसमर्पण करना पड़ा। पूर्व मंत्री को फरार देख अनुसंधानकर्ता ने पूर्व मंत्री के विरुद्ध कुर्की जब्ती के आदेश के लिए न्यायालय में आवेदन दिया था,जिस पर 16 नवंबर 2018 को न्यायालय ने पूर्व मंत्री के विरुद्ध कुर्की जब्ती का आदेश दिया। इस आदेश के विरुद्ध पूर्व मंत्री ने जिला एवं सत्र न्यायाधीश दीवान अब्दुल अजीज खान के न्यायालय में क्रिमिनल रिवीजन 371 /18 दाखिल की है जिस पर सुनवाई होनी है।

बुर्का पहन कोर्ट पहुंची फरार मंजू वर्मा ने किया सरेंडर, बार-बार हो रही बेहोश

फरार पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने मंगलवार को मंझौल कोर्ट में सरेंडर कर दिया। मंजू ने पुलिसकर्मियों की नजर से बचने के लिए बुर्का पहन रखा था। बताया जा रहा है कि ऑटो से पहुंची मंजू बार-बार बेहोश हो रही थी। मंजू की घर की कुर्की भी हो चुकी है। जिसके बाद सरेंडर किया है। मंजू और उनके पति चंद्रशेखर पर आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज है।

17 नवंबर को घर की हुई थी कुर्की

17 नवंबर को मंजू वर्मा की पैतृक घर की कुर्की जब्ती की कार्रवाई बेगूसराय पुलिस ने शुरू की थी। मंजू के घर का एक-एक सामान को निकाला कर ले गई। कोई हंगामा ना हो इसको लेकर भारी संख्या में सुरक्षा बलों को भी तैनात किया गया था।

छापेमारी में मिला था 50 कारतूस

17 अगस्त को चेरिया बरियारपुर थाना के श्रीपुर गांव में मंजू वर्मा के घर से छापेमारी में 50 अवैध कारतूस बरामद किया था। इस मामले में चंद्रशेखर और मंजू वर्मा को आरोपित किया गया था। दोनों पति-पत्नी बेगूसराय और पटना हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की थी जहां से खारिज हो गई थी। पति ने तो सरेंडर कर दिया। लेकिन मंजू वर्मा ने सरेंडर नहीं की थी। बेगूसराय और पटना हाई कोर्ट ने मंजू वर्मा की भी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर चुकी है।
ख़बर/लेख अच्छा लगे तो शेयर जरुर कीजिए। ख़बर पर आप अपनी सहमती और असहमती प्रतिक्रिया के रूप में कोमेंट बॉक्स में दे सकते हैं। आप हमें सहयोग भी कर सकते हैं,समाचार,विज्ञापन,लेख या आर्थिक रूप से भी। PAYTM NO. 7805875468 या लिंक पर क्लिक करके।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget