माँ स्वर्णमयी अन्नपूर्णा का पट भक्तों को खजाना बाँटने के लिए भोर से खुला

धनतेरस


वाराणसी।।धनतेरस पर्व से लगातार चार दिन तक जगत जननी मां अन्नपूर्णा के स्वर्णमयी प्रतिमा का दर्शन श्रद्धालुओं के लिए खुला। रविवार आधी रात के बाद मंदिर के महंत रामेश्वर पुरी मां के विग्रह का षोडशोपचार पूजन व मंगला आरती किया। 
भोर में दरबार का पट भक्तों के लिए खोल दिया गया। यह क्रम अन्नकूट की रात 11 बजे तक चलता रहेंगा। इसके स्वर्णमयी प्रतिमा का महाआरती कर मंदिर का पट पुन: एक साल के लिए बंद हो जायेगा। मां अन्नपूर्णा का यह मंदिर पूरे देश में इकलौता है जहां धनतेरस से अन्नकूट तक मां का खजाना बांटा जाता है। मंदिर से मिले सिक्के और धान के लावा को लोग श्रद्धाभाव से अपने तिजोरी और पूजा स्थल पर रखते हैं। मान्यता है कि ऐसा करने से पूरे वर्ष धन और अन्न की कमी नहीं होती।

शाम 5 बजे तक लगभग सवा लाख दर्शनार्थियों ने स्वर्णमयी माँ अन्नपूर्णा के दर्शन एवं प्रसाद के रूप मे माँ का खजाना भी प्राप्त किया।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget