"डर के आगे विज्ञापन है" प्रियंका गांधी का रोड शो और योगी सरकार का पेज वन विज्ञापन?

तो ये मानिये कि तब योगी सरकार से मझोले और छोटे अखबारों को भी पेज वन के लिए विज्ञापन मिलेगा।


वेद शिकोह
कल लखनऊ में प्रियंका गांधी अपने रोड शो में एक शब्द भी नहीं बोलीं। कांग्रेस के सूत्र बताते हैं कि प्रियंका अगले शो में सिर्फ एक लाइन बोलेंगी- "पत्रकार भाइयों, आपके अखबारों को मैं विज्ञापन दिलवाती रहुंगी।"

अक्सर ऐसा होता है कि जब किसी राजनीतिक दल का कोई बड़ा कार्यक्रम होता है तो वो दल या उसके नेता अखबारों को विज्ञापन देते हैं। लेकिन लखनऊ में इसके विपरीत उल्टी गंगा बही। लखनऊ में रोड शो प्रियंका का था और इस अवसर पर विज्ञापन मिला योगी सरकार से।

अखबार वाले भी बड़े एहसानफरामोश होते हैं, विज्ञापन योगी सरकार ने दिया और इसका श्रेय प्रियंका गांधी को दे रहे हैं। दुआ कर रहे हैं- काश रोज़ प्रियंका का रोड शो हो और इसके डर से भाजपा सरकार हमारे अखबारों को फुल पेज विज्ञापन देती रहे। एक विज्ञापन ने डर के आगे जीत बताया था लेकिन भाजपा सरकार का विज्ञापन बताता है कि डर के आगे विज्ञापन है।

इधर कुछ दिनों से भाजपा के अच्छे दिन नहीं चल रहे हैं। अच्छी बात का भी बुरा प्रभाव पड़ रहा है। कल उत्तर प्रदेश के सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग ने अखबारों के लिए फुल पेज विज्ञापन जारी किया। शर्त ये रखी कि ये विज्ञापन पेज वन पर लगाया जाये। इस विज्ञापन का रिलीज आर्डर जारी होने के बाद ही हल्ला होने लगा। ये बातें वायरल होने लगीं कि लखनऊ में प्रियंका गांधी की कवरेज को दबाने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पेज वन के लिए विज्ञापन जारी कर दिया। लोग इस विज्ञापन को प्रियंका का डर और घबराहट बताने लगे। छोटे अखबार के पब्लिशर कह रहे हैं कि प्रियंका की पहली एंट्री की खबर पेज वन से गायब करने के लिए बड़े अखबारों को पेज वन के लिए विज्ञापन दे दिया गया। तब जबकि पूरे रोड शो में प्रियंका गांधी वाड्रा एक शब्द भी नहीं बोलीं। यदि आगे उनके धुआँधार रोडशो / जन सभाये होती हैं और प्रियंका उसमें भाषण भी देती हैं तो ये मानिये कि तब योगी सरकार से मझोले और छोटे अखबारों को भी पेज वन के लिए विज्ञापन मिलेगा।
लेबल:
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget