NTPC के फ्लाइ ऐशडेम में लीकेज,दर्जनों परिवार बेघर हो सकते हैं!


सिंगरौली। NTPC एनटीपीसी विन्ध्यांचल सुपर थर्मल पावर स्टेशन विन्ध्यनगर कि बलियरी स्थीत फ्लाइ ऐष डेम मे बङा लिकेज हो गया है। जिससे बाध के नीचे बने दर्जन भर घरों के तबाह व बर्बाद होने की आशका बनी हुई है। एनटीपीसी प्रबंधन द्वारा रेत की बोरी गिट्टी,पत्थर से पानी के बहाव को रोकने का टिटहरी प्रयास किया जा रहा है। 

रेत की बोरी और गिट्टी से पानी रोकने का चल रहा है टिटहरी प्रयास 

जिला मुख्यालय बैढन से महज 3 किलो मीटर दूर स्थीत ग्राम बलियरी मे एनटीपीसी विन्ध्यनगर के फ्लाइ ऐश डेम मे पानी का रिसाव होने से 3मिटर गहरा खाई नुमा गड्डा बन गया था,जिसको देखकर बाध के नीचे बसे लोगो मे दहशत का माहौल बना हुआ है, इसकी जानकारीजब एनटीपीसी विन्ध्याचल सुपर थर्मल पावर के प्रबंधन को लगी तो आनन- फानन मे प्रबंधन के लोग मौक़ा पर पहुंच स्थिती का जायजा लिए जहां बलियरी फ्लाई ऐश डेम मे 3 मीटर गहरा खाईनुमा गडढा बन गया था। फलाइ ऐष डेम बनने वाला ठेकेदार के आदमी भी पहुंचे,और रेत की बोरी, गिट्टी और पत्थर से पानी के बहाव को रोकने की कवायद शुरू किया गया। 


NTPC बलियरी फ्लाई ऐश डेम में लीकेज घटिया निर्माण और कमीशनखोरी का परिणाम है?

देश की सबसे बडी ताप विद्युत गृह और नवरत्न कंपनियों मे शुमार एनटीपीसी विन्ध्याचल सुपर र्थमल पावर स्टेशन विन्ध्यनगर के करोडो रूपये के फ्लाई ऐष डेम कमीशन खोरी और भ्रटाचार की भेट चढ गया। बताया जाता है कि बाध बनने के लगभग 5 साल बाद ही बडा लिकेज हो गया। जिससे लगभग 3 मीटर गहरा खाईनुमा गड्डा हो गया है हालाकि बांध बनाने के एक साल बाद ही रिसाव की खबर आई थी। लोग इसे घटिया निर्माण एवं लापरवाही करार दे रहे है।


दर्जनों परिवार बेघर हो सकते हैं!

बलियरी फ्लाई ऐश डेम में रिसाव के कारण बडा हादसा हो सकता है।राख बांध फुटा तो एक ओर जहां परियोजना को कराडो की क्षति होगी वही दर्जन भर परिवार बेघर हो जाएंगे और उनका घर,फसल और मवेशी सब बहाव से तबाह हो जाएगा।

बुनियादी सुविधा भी मयस्सर नहीं

फलाइ ऐशडेम के नीचे बसे परिवार वालो का कहना है, कि एनटीपीसी प्रबंधन द्वारा प्लाट नही दिया गया। मेरी जमीन बांध मे अर्जित कर ली गई है। हम लोगों को बुनियादी सुविधा भी मयस्सर नहीं।

Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget