पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड मारा गया - सेना

आतंकियों के मददगारों को भी नहीं बक्शा जाएगा।


14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले के बाद सेना की आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई तेज हो चुकी है। पिछले कई दिनों से सेना लगातार ऑपरेशन चला रही है,इस ओपरेशन में में कश्मीर के 18 आतंकी ढेर किए गए,जिसमें पुलवामा की साजिश रचनेवाला जैश-ए-मोहम्मद का आंतकवादी मुदिस्सिर को भी मार दिया गया है।अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि जैश ए-मोहम्मद का आतंकवादी मुदस्सिर अहमद उर्फ ‘मोहम्मद भाई’ पुलवामा जिले के त्राल के पिंग्लिश क्षेत्र में कल रात मुठभेड़ के दौरान मारे गए दो आतंकवादियों में से एक है। 

उन्होंने बताया कि खान और जैश-ए-मोहम्मद के एक अन्य आतंकवादी सज्जाद भट सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गये। भट की ही गाड़ी का पुलवामा आतंकवादी हमले में इस्तेमाल किया गया था।

आतंकियों के मददगारों को भी नहीं बक्शा जाएगा।

सेना ने कहा है कि आतंक के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी रहेगी।सीआरपीएफ का कहना है कि घाटी में अब आतंकियों के मददगारों को भी नहीं बक्शा जाएगा।जैश के आतंकियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी रहेगी।

21 दिनों में 18 आतंकी ढेर

सेना का कहना है कि पिछले 21 दिनों में जिन 18 आतंकियों को मार गिराया गया है,उनमें से 8 आतंकी पाकिस्तान के थे। ये आतंकी कश्मीर में आकर किसी बड़ी आतंकी घटना को फिर से अंजाम देने की साजिश रच रहे थे।सेना ने साफ कर दिया है कि जैश के कश्मीर से खत्म होने तक कार्रवाई जारी रहेगी और आतंकियों को मारा जाएगा।

पाकिस्तान को करारा जवाब दिया जा रहा है। 

सेना की तरफ से बताया गया है कि पछले दिनों से पाकिस्तान लगातार सीजफायर तोड़ रहा है। पाकिस्तान की तरफ से सीमा पर गोलीबारी हो रही है। हम लोग स्थानीय लोगों का पूरा खयाल रखने की कोशिश कर रहे हैं। पाकिस्तान की तरफ से हो रही फायरिंग का लगातार करारा जवाब दिया जा रहा है। 
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget