बनारस से नरेंद्र मोदी के अलावा भाजपा का एक और उम्मीदवार ने नामांकन दाखिल किया,जानिए क्यों


अंकुर पटेल 
विशेष संवाददाता

आज सुबह से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दर्शन पाने के लिए कचहरी परिसर में नामांकन स्थल के पास काफी संख्या में दर्शक बैरिकेडिंग के अगल-बगल खड़े होकर इंतजार करते रहे 

नामांकन से पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनारस के कोतवाल बाबा काल भैरव का दर्शन किया। दर्शन करने के तुरंत बाद उन्होंने अपने काफिला के साथ सीधे नामांकन स्थल कचहरी के लिए रवाना हुएनामांकन स्थल के द्वार पर काफिला को रोक कर वहां से पैदल नामांकन करने के लिए चल पड़े जैसे ही कचहरी परिसर में उन्होंने प्रवेश किया तो उनको देख कर दर्शक नमो नमो का उद्घोष करने लगेनामांकन स्थल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी थेनामांकन स्थल पर जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र सिंह के समक्ष उन्होंने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया

सबसे बड़ी बात यह रही कि वाराणसी लोकसभा सीट से प्रधानमंत्री मोदी के अलावा भाजपा से एक और प्रत्याशी ने पर्चा भरा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही बीजेपी की ओर से एक और नामांकन दाखिल हुआ है।बीजेपी की महानगर महामंत्री निर्मला सिंह ने पीएम मोदी के नामांकन से पहले अपना नामांकन पत्र भरा। उन्होंने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि वह भाजपा की उम्मीदवार है।पार्टी के कहने पर उन्होंने अपना नामांकन किया है। जानकारों का मानना है की पार्टियां ऐसे उम्मीदवार को इसलिए उतरती हैं के परिस्थितियों के अनुसार अपना उम्मीदवार बदल सके या वास्तविक उम्मीदवार का नामांकन रद्द होने की स्थिति में डमी उम्मीदवार के साथ चुनाव लड़ सके।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक के रूप में रामाशंकर पटेल, सुभाष चंद्र गुप्ता, जगदीश चौधरी, अन्नपूर्णा शुक्ला मौजूद थे
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 4 सेट, निर्मला सिंह 3 सेट तथा सुनील कुमार ने 2 सेट में नामांकन पत्र दाखिल किया
डमी प्रत्याशी  और उसके महत्व 

डमी उम्मीदवार का इस्तेमाल पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी का पर्चा खारिज होने की स्थिति में किया जा सकता है। अगर किसी कारणवश प्रमुख उम्मीदवार का नामांरन रद्द हो जाए तो डमी उम्मीदवार को चुनाव लड़ाया जाता है।

नाम वापसी की तारीख से पहले डमी कैंडिडेट को या तो पार्टी का अधिकृत चुनाव चिह्न जमा कराना होगा या तो अपना नामांकन वापस लेना होगा। नहीं तो एसी स्थिति में उनकी उम्मीदवारी निरस्त कर दी जाएगी।

डमी कैंडिडेट का उपयोग देश की अधिकतर पार्टियां करती हैं। इसका उपयोग पार्टी के प्रत्याशी का पर्चा खारिज होने की स्थिति में किया जा सकता है। इसके कई लाभ भी हैं जिसे कोई भी पार्टी छोड़ना नहीं चाहती हैं।

आज इन लोगो ने किया नामांकन

1.सुनील कुमार निवासी हरिद्वार (निर्दलीय)
2.राम कुमार जयसवाल निवासी जबलपुर (निर्दलीय)
3.निर्मला सिंह निवासी करौदी वाराणसी (भारतीय जनता पार्टी)
4.नरेंद्र (दामोदरदास) मोदी निवासी अहमदाबाद (भारतीय जनता पार्टी)
5.जीवन कुमार निवासी तमिलनाडु (बहुजन द्रविड़ पार्टी)
6.अरुण भाउराव नीतूरे निवासी महाराष्ट्र (राष्ट्रीय किसान बहुजन पार्टी)
7.विनोद निवासी चंदौली (निर्दलीय)
8.अरविंद सिंह निवासी इंद्रपुर शिवपुर (निर्दलीय)
9.भरत सेन एडवोकेट निवासी सागर मध्य प्रदेश (निर्दलीय)
10.कुलदीप त्रिपाठी निवासी शिवपुर वाराणसी (निर्दलीय)
11.चंद्रिका प्रसाद निवासी सीतामढ़ी बिहार (निर्दलीय)
12.बृजेंद्र दत्त त्रिपाठी निवासी फैजाबाद अयोध्या (आदर्शवादी कांग्रेस पार्टी)
13.परवेज कादिर खान निवासी शिवाला वाराणसी (निर्दलीय)
14.धुरंधर सिंह निवासी सामनेघाट भगवानपुर वाराणसी (निर्दलीय)
15.विनय निवासी महाराष्ट्र (निर्दलीय)
16.अभिषेक कुमार निगम निवासी चेतगंज वाराणसी (समता समाजवादी कांग्रेस पार्टी)


आज के दिन 10 नामांकन फार्म खरीदे तथा 11 चालान जमा किये गएअभी तक कुल 73 नामांकन फार्म जा चुके है तथा 106 चालान जमा हुए है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चुनावी शपथपत्र देखने के लिए यहां क्लिक करें।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget