मध्यप्रदेश : कांग्रेस के 'चौकीदार चोर है' के विज्ञापन पर चुनाव आयोग ने लगाई रोक


मध्यप्रदेश में कांग्रेस के चुनाव प्रचार अभियान को बड़ा झटका लगा है। मध्यप्रदेश निर्वाचन आयोग ने कांग्रेस के 'चौकीदार चोर है' विज्ञापनों के प्रसारण पर रोक लगा दी है। संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजेश कौल ने राज्य के सभी जिलाधिकारियों से कहा कि,लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के द्वारा प्रसारित किए जा रहे विज्ञापन ‘चौकीदार चोर है’ पर रोक लगाई जाए।

कलेक्टर को लिखा ख़त 
मध्यप्रदेश चुनाव आयोग ने सभी कलेक्टरों को लिखे खत में लिखा है कांग्रेस के 'चौकीदार चोर है' विज्ञापन को राज्य स्तरीय मीडिया प्रमाणन तथा अनुवीक्षण समिति द्वारा निरस्त किया गया है इसलिए कलेक्टर अपने-अपने जिलों में इसके प्रसारण पर रोक सुनिश्चित करें। 

मध्य प्रदेश बीजेपी ने राज्य निर्वाचन आयोग से इन विज्ञापनों पर आपत्ति जताते हुए इसकी शिकायत थी,कहा था 'चौकीदार चोर है' विज्ञापन के ज़रिए कांग्रेस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि धूमिल करने की कोशिश कर रही है।

कांग्रेस प्रवक्ता अब्बास हफीज़ ने कहा भारतीय जनता पार्टी सेल्फ गोल करा रही है फजीहत करा रही है, हमने नहीं कहा नरेन्द्र मोदी चोर हैं ये बीजेपी कह रही है हमने कहा ये गलत बैन है इसे हटाएं। 

वहीं बीजेपी नेता रामेश्वर शर्मा ने कहा ये भारत के लिये मरने मिटने वाले नेता हैं जिनका नाम नरेन्द्र मोदी है, वो भारत में भ्रष्टाचारियों को जेल भेजने वाला है, गद्दारों को फांसी की सजा सुनाना वाला है वो चोर नहीं सच्चा वफादार है जिसको नरेन्द्र मोदी कहते हैं।

राजनीतिक विज्ञापन में व्यक्तिगत आरोप नहीं लगाया जा सकता!
इस मामले की जांच के बाद मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने कहा कि- ‘वर्तमान राजनीति में चौकीदार से आशय भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से है और निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन के मुताबिक कोई भी पार्टी अपने राजनीतिक विज्ञापन में किसी भी व्यक्ति पर व्यक्तिगत आरोप नहीं लगा सकती।  इसलिए इस विज्ञापन के प्रसारण पर रोक लगाई जाती है।’
चुनाव आयोग ने कांग्रेस नेताओं को निर्देश दिए कि 'चौकीदार चोर है' कैम्पेन से जुड़ी हुई सभी सामग्रियों को जमा कराया जाए। लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए कांग्रेस ने 'चौकीदार चोर है' के शीर्षक से कैंपेन तैयार किया था इसमें दो ऑडियो और एक वीडियो विज्ञापन था।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget