UPSC में मिस्त्री को 53वां स्थान मिलने की ख़बरें झूठी है!


बीते शुक्रवार को UPSC सिविल परीक्षा का रिजल्ट जारी होने के बाद से ही एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है । इस तस्वीर में एक नौजवान धूप में मिस्त्री का काम करते नजर आ रहा है जिसका नाम नाम सुमित विश्वकर्मा बताया जा रहा है। चैनलों से लेकर कई वेबसाइट्स ने ये खबर प्रकाशित की है कि एमपी जबलपुर का सुमित विश्वकर्मा जो कि मिस्त्रीगिरी का काम करता है उसने UPSC सिविल में 53वां स्थान हासिल किया है। मीडिया में चल रही खबरों में भावनात्मकता एंगल देते हुए लिखा गया की, सुमित दिन में मजदूरी और रात को पढ़ाई करता था और उसने कड़ी मेहनत के बाद ये सफलता हासिल की है। लेकिन यह ख़बर पूरी तरह से FAKE NEWS है ।

सच्चाई क्या है,जानिए
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget