जिले में धड़ल्ले से हो रहा है अवैध पत्थर का कारोबार,जिम्मेदार अधिकारी सो रहा है चैन की नींद


सिंगरौली।। नवानगर थाना अंतर्गत एनसीएल अमलोरी परियोजना से अवैध पत्थर परिवहन का खेल धड़ल्ले से जारी है। आदर्श आचार संहिता लागू होते ही अवैध पत्थर का परिवहन तेजी से बड़ा है जहां स्थानीय लोग जान जोखिम में डालकर पत्थर चुरा रहे हैं। यह सब कुछ नवानगर थाने से महज चंद कदमों की दूरी पर हो रहा है और जिला मुख्यालय से लगे हुए इलाके में लेकिन उन पर जिला प्रशासन लगाम नहीं लगा पा रहा है। इतना ही नहीं यह नजारा देखकर आप भी इस बात का अंदाजा लगा लेंगे यह कितना खतरनाक है। सौ मीटर से ज्यादा की उचाई से पत्थर गोली की रफ़्तार से नीचे गिरते है। इसमें कई लोग अपनी जान भी गवां चुके हैं।जानलेवा यह पूरा नजारा जिला मुख्यालय से सटे नवानगर थाने के निगाही कोयला खदान इलाके का है।

निगाही अमलोरी खदान सेनिकलने वाले ओवरबर्डन का ढेर लग जाता है,पत्थर के कारोबारी ट्रैक्टर ट्राली लगाकर जमा करते हैं और बाजार में ले जाकर बेच देते है। यह सब कुछ प्रशासन के सामने होता है इसके बाद भी अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई।

सैकड़ों ट्रैक्टर कर रहे परिवहन
सूत्रों की माने तो नार्दर्न कोलफील्ड कंपनी के अमलोरी परियोजना में कोयले के ऊपर से पत्थर और मिट्टी हटाकर एक जगह स्टॉक किया जता है। यह मिट्टी और पत्थर का स्टॉक करीब 100 मीटर से ज्यादा की ऊंचाई तक के ढेर में बदल जाता है। यहीं से निकलने वाले पत्थर को एनसीएल के अधिकारी व पुलिसकर्मी कि मदद से बाजार में बेचा जाता है। सूत्रों की मानें तो इस पूरे खेल में तकरीबन 100 ट्रैक्टर से ज्यादा काम पर लगे हैं जहां से दिन रात पत्थर का अवैध परिवहन किया जा रहा है।
अब देखने वाली बात यह है कि मामला प्रकाश में आने के बाद पुलिस अपने  कथनी व करनी पूर्णतः पालन करते हुए जमीनी स्तर पर ठोस कार्यवाही करती है या फिर माहज कैमरों तक कार्यवाही सिमट कर रह जाती है,जो भी अपडेट्स होगा उर्जांचल टाइगर पारदर्शी और निष्पक्षता से आम जनता के सामने प्रस्तुत करता रहेगा।

रिपोटर-अर्जुन शाह


Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget