#SINGRAULI दसौती में सीसी रोड के घटिया निर्माण का आरोप, ग्रामीणों ने जताया रोष

घटिया निर्माण से ग्रामीणों में रोष


सिंगरौली।। अधिकारी और ठेकेदार मिलकर सरकारी योजनाओं को किस तरह पलीता लगा रहे हैं इसकी एक बानगी आज फिर उस समय देखने को मिली जब दसौती गाँव में बनने वाली सड़क भ्रष्टाचार की भेट चढ़ी। नार्दन कोलफील्ड लिमिटेड अमलोरी परियोजना द्वारा रोड बनाने का निर्माण कराया जा रहा है जिसे ठेकेदार और वरिष्ट उच्चाधिकारियों की मिली भगत से 800 मीटर लंबाई की सड़क का घटिया निर्माण किया जा रहा है। जिसकी लागत लगभग 48.46 लाख की है।योजना को एनके इंटरप्राइजेज कंपनी द्वारा पलीता लगाया जा रहा है। जिसमे ठेकेदार द्वारा लगातार घटिया निर्माण कार्य किया जा रहा है। रोड मै बोलडर युक्त मुरुम की फीलिंग साफ देखी जा रही है। जहाँ ना तो सही मुरम डाली गई ना ही रोलर से दवाई गई और ना ही उसमें पानी डाला जा रहा है। बिना किसी अधिकारी व इंजीनियर की देखरेख और ठेकदार की मनमर्जी से निम्न गुणवत्ता की एनसीएल के सीएसआर रोड का निर्माण जारी है। जिसमें ठेकेदार की हिटलरशाही और अधिकारियों की जुगलबन्दी का परिणाम परिणाम स्वरूप घटिया रोड का निर्माण कराया जा रहा है।

घटिया निर्माण से ग्रामीणों में रोष

नार्दन कोलफील्ड लिमिटेड द्वारा करीब 48 लाख की लागत से गांव के मुख्य मार्ग पर सीसी रोड समेत नालियों का निर्माण करवाने के लिए अमलोरी परियोजना द्वारा सीएसआर मद निर्माण कार्य करवाया जा रहा है परंतु अभी से निर्माण कार्य मे दरारें नजर आने लग गई है। जिसके चलते ग्रामीणों ने ठेकेदार पर घटिया निर्माण के प्रति रोष व्यक्त किया। ग्रामीण जमुना प्रसाद साह, राजेंद्र प्रसाद चौबे, छोटेलाल शाह व कुंदन पांडे ने बताया कि एन के इंटरप्राइजेज द्वारा रोड व नाली निर्माण में मिट्टी युक्त बालू का उपयोग किया जा रहा जिसके चलती निर्माण में दरारें नजर आ रही है।ग्रामीणों का कहना है कि इससे शासन की राशि ही जाया हो रहा है। निर्माण में जगह-जगह रेत और गिट्टी ही दिखाई दे रही है। सीमेंट का उपयोग कम किया जा रहा है। इससे सड़क साल भर नहीं चलेगा। 

मिट्टी युक्त बालू का हो रहा उपयोग

एनसीएल द्वारा दसौती गांव में रोड नाली का निर्माण करवाया जा रहा है। इसमें मिट्टी युक्त रेत का उपयोग किया जा रहा है। पीसीसी के लिए भी मापदंडों की अनदेखी की जा रही है। इसके चलते कई जगह मिट्टीयुक्त सामग्री का उपयोग होने से दरार भी ताजा पीसीसी में देखे गए हैं। स्थानीय लोगों ने ठेकेदार द्वारा गुणवत्ता में बरती जा रही लापरवाही और अधिकारियों की अनदेखी के चलते निर्माण कार्य की जांच की मांग की गई है।

घटिया मटीरियल का हो रहा है इस्तेमाल

एनसीएल के सीएसआर मद से दसौती गांव में में हो रहे रोड और नाली निर्माण में घटिया मटेरियल का इस्तेमाल किया जा रहा है यहां गिट्टी में 10 एम.एम.-6 एम.एम. मिक्स मिट्टी मिक्स बालू एवं सीमेंट की कमी करके सीमेंट में डस्ट मिक्स किया जा रहा है, जिससे सीमेंट कांक्रीटिंग कार्य में मजबूती नही आ रही है। सबसे बडी कमी है कि इस कार्य में मिस्त्री के जगह लेबर ही मटेरियल मशीन पर मिक्स करके डाल रहें है जिससे मटेरियल कहीं पर कम तो कहीं पर ज्यादा जिससे गिट्टी उपर ही उपर दिखाई दे रहा है। जो कि कुछ ही दिनों में खराब हो कर उखड जाएगा।

रिपोटर-धर्मेन्द्र शाह

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget