सिक्कल कम्पनी के लापरवाही से फिर हुई 3 मवेशी की हुई मौत,प्रशासन की चुप्पी बना चर्चा का विषय

सिक्कल कंपनी प्रबंधन की लापरवाही ने ली मवेशियों की जान



ओम प्रकाश शाह

बैढ़न कार्यालय(सिंगरौली)। सिक्कल कंपनी प्रबंधन के द्वारा बचे हुए खाने को पास के नाले में फेंक दिया जाता जो सड़ जाता हैं वही सड़ा गला खाना मवेशियों को खाने से हुआ फूड प्वाइजनिंग।

एनसीएल झिंगुरदा परियोजना के आवासीय परिसर के समीप उस समय अफरा तफरी मच गई जब करीब 1- 2 के बीच में अचानक 3 गाय तड़प तड़प कर मर गई। जिससे कॉलोनी रहवासियों में अफरा-तफरी मच गया आवासीय परिसर में रह रहे लोगों ने उसे बचाने का काफी प्रयास किया लेकिन कोई भी गाय बच नहीं पाई। 
सभी गाय के मुंह से गाज निकल रहा था उल्टी कर रही थी,इससे यह जाहिर होता है कि गाय किसी प्रकार की जहरीला पदार्थ का सेवन कर लिया.जिससे फूड प्वाइजनिंग हो जाने से उनकी मौत हो गई। 
ज्ञात हो की इसके पूर्व भी दो गाए की मौत जहरीला पदार्थ खाने से हुई स्थानीय लोगों ने बताया कि झिगुरदा परियोजना मे ओ वी हटाव का कार्य कर कंपनी सिक्कल प्राइवेट लिमिटेड द्वारा संचालित मेश में बचे गंदे खाने को खुले में एवं पास में बह रहे नाले में फेंक दिया जाता है। जो कि सड़ कर जहरीला हो जाता है। आसपास विचरण करने वाले मवेशी उसे खाकर एवं गर्मी होने से नाले का गंदा जहरीला पानी पीकर कई मवेशी बीमार पड़कर कई मवेशी मर चुके हैं। लेकिन ओवी कंपनी के एच आर द्वारा इस पर ध्यान नहीं दिए जाने से स्थानीय लोगों में आक्रोश व्याप्त है।वहीं वार्ड नं 11नगर निगम क्षेत्र की पार्षद अफसरी हित हक द्वारा मोरवा थाने में तहरीर देकर सिक्कल कंपनी के विरुद्ध कार्रवाई करने की मांग की है ।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget