आजाद भारत का पहला आतंकी हिंदू था - कमल हासन

यह सत्य है की नाथूराम गोडसे ने गोली मारकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी।लेकिन आजाद भारत का पहला आतंकी हिन्दू था कहना न तो तर्कसंगत है और न ही उचित है। - संपादक


यह सत्य है की नाथूराम गोडसे ने गोली मारकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी।लेकिन आजाद भारत का पहला आतंकी हिन्दू था कहना न तो तर्कसंगत है और न ही उचित है। - संपादक 
मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने कहा कि आजाद भारत का पहला ‘‘उग्रवादी हिन्दू’’ था। वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, रविवार की रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं जो समानता वाला भारत चाहते हैं और जहां तिरंगे के ‘‘तीन रंग’’ बरकरार रहें। विभिन्न धर्मों के संदर्भ में उन्होंने तिरंगे के तीन रंगों का जिक्र किया। 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुस्लिम बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं। आजाद भारत का पहला उग्रवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है। वहीं से इसकी (उग्रवाद) शुरुआत हुई।’’ महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आये हैं।

उन्होंने कहा,‘‘अच्छे भारतीय समानता चाहते हैं और चाहते हैं कि तिरंगे के तीन रंग बरकरार रहें। मैं अच्छा भारतीय हूं, गर्व से इसकी घोषणा करुंगा।’’ हासन ने कहा कि उन्होंने ‘‘स्वघोषित रूप से अपने आप को गांधी का पौत्र मान लिया है’’।

कौन था गांधी का हत्यारा नाथूराम गोडसे 

नाथुराम गोडसे(19 मई 1910 - 15 नवम्बर 1949) एक कट्टर हिन्दू समर्थक थे, जिन्होंने 30 जनवरी 1948 को नई दिल्ली में गोली मारकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी। गोडसे, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पुणे से पूर्व सदस्य थे। गोडसे ने नारायण आप्टे और 6 लोगों के साथ मिल कर इस हत्याकाण्ड की योजना बनाई थी। एक वर्ष से अधिक चले मुकद्दमे के बाद 15 नवम्बर 1949 को गोडसे को अम्बाला जेल में फाँसी दे दी गई।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget