प्रचंड मोदी लहर के बावजूद अपनी सीट नहीं बचा पाए मोदी के ये मंत्री



प्रचंड मोदी लहर के बावजूद भाजपा के कुछ दिग्गज नेता अपनी सीट नहीं बचा पाए। चुनाव हारने वालों में 6 तो केंद्र में मंत्री हैं।

मनोज सिन्हा 
उत्तर प्रदेश से बीजेपी के दिग्गज नेता और केंद्रीय रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा गाजीपुर सीट पर बड़े अंतर से हार गए। बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार अफजल अंसारी ने उन्हें 119,392 वोटों से हरा दिया। मनोज सिन्हा का इस सीट से हारना बीजेपी के लिए बड़ा झटका है।
अनंत गीते

महाराष्ट्र में शिवसेना के कद्दावर नेता और केंद्रीय मंत्री अनंत गीते को नेशनल कांग्रेस पार्टी (NCP) के सुनील तटकरे ने 31,438 वोटों से हरा दिया। महाराष्ट्र की रायगढ़ सीट पर गीते ने 455,530 वोट हासिल किए, जबकि तटकरे को 486,968 वोट मिले। बता दें, महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना मिलकर चुनाव लड़ीं।


हरदीप सिंह पुरी

केंद्र सरकार में मंत्री रहे हरदीप सिंह पुरी मोदी लहर के बावजूद पंजाब की अमृतसर सीट से चुनाव हार गए।यहां कांग्रेस के गुरजीत सिंह औजला ने 99,626 वोटों से मात दी है।अमृतसर से पुरी को 345,406 वोट मिले।


हंसराज अहिर


मोदी सरकार में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहिर कांग्रेस के उम्मीदवार के सामने हार गए। महाराष्ट्र की चंद्रपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस के बालूभाऊ उर्फ सुरेश नारायण धानोरकर ने 44,763 वोटों से जीत का परचम लहराया।




केजे अल्फोंस
मोदी सरकार में मंत्री रहे केजे अल्फोंस ने भी बड़े वोटों के अंतर से हार खाई है। केरल की एर्नाकुलम सीट पर अल्फोंस तीसरे नंबर पर आए। कांग्रेस नेता हिबी हिडेन ने सबसे ज्यादा 491,263 वोट हासिल किए। इसके बाद सीपीआई नेता पी राजीव को 322,110 वोट मिले।जबकि केंद्र में मंत्री रहे केजे अल्फोंस को सिर्फ 137,749 वोट मिले।
पी. राधाकृष्णन

मोदी सरकार में वित्त राज्य मंत्री पॉन राधाकृष्ण भी अपनी सीट नहीं बचा पाए। तमिलनाडु की कन्याकुमारी सीट पर राधाकृष्णन ने सिर्फ 35 फीसदी वोट हासिल किए। जबकि कांग्रेस नेता एच वसंत कुमार को 60 फीसदी वोट मिले। इस तरह राधाकृष्णन को करीब 259,933 वोटों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget