NCLप्रबंधन की मनमानी : एनजीटी की आंखों में धूल झोंक कर कोयले का रोड परिवहन चलवाता रहा !


  • एनसीएल प्रबंधन एनजीटी के आदेश का खुलेआम कर रहा उल्लंघन।
  • एनजीटी के आदेश पर एनसीएल ने प्राइवेट सेक्टर ट्रांसपोर्ट कंपनी व प्राइवेट ट्रांसपोर्ट के कोल परिवहन पर लगाया रोक।
  • एनसीएल प्रबंधन के मनमानी से परेशान होकर प्राइवेट कोल ट्रांसपोर्टरों ने किया चक्काजाम।

विनोद सिंह।ओम प्रकाश  शाह।सुंदरम सिंह
"उर्जांचल टाईगर" टीम  सिंगरौली

एनजीटी के कड़े निर्देश के बाद एनसीएल ने पिछले 2 दिनों से कोल परिवहन पर रोक लगाते हुए एनसीएल के सभी परियोजनाओं से रोड पर से कोयला परिवहन कर रहे वाहनों को बंद किया लेकिन एनजीटी को दिखाने के लिए। अपने फायदे के लिए एनसीएल ने जयंत परियोजना से मोरवा का कोयला परिवहन बंद नहीं कराया साथ ही गोरबी परियोजना से मोरवा साइडिंग को भी बंद नहीं कराया।


रोड परिवहन चलवाता रहा जिसको लेकर प्राइवेट सेक्टर कोयला ट्रांसपोर्टर नाराज होकर शुक्ला मोड़ पर जयंत परियोजना से कोयला लेकर मोरवा जा रही सभी कोयला वाहनों को रोककर चक्का जाम किया। एनसीएल के खिलाफ नारेबाजी किया चक्का जाम को लेकर मौके पर सिंगरौली के पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन भी मौके पर पहुंचे कोयला ट्रांसपोर्टरों के बीच वार्तालाप किया।


कोयला ट्रांसपोर्टरों का कहना था एनजीटी ने जब रोड पर कोयला परिवहन करने के लिए रोक लगा रखा है तो एनसीएल जयंत परियोजना और गोरबी परियोजना से कैसे कोयले का परिवहन रोड पर से कर रहा है? एनसीएल अपने फायदे के लिए ऐसा कर रहा है? जिसका हम विरोध कर रहे हैं जो सरासर गलत है बंद करना है तो सारे कोल परिवहन को बंद किया जाए अन्यथा हमारा भी कोल परिवहन चालू कराया जाए।

कानून व्यवस्था किसी को भी नहीं तोड़ने दिया जाएगा जो भी निर्णय रहेगा उसे कड़ाई से पालन कराया जाएगा।
अभिजीत रंजन
जिला पुलिस अधीक्षक सिंगरौली।
एनसीएल ने एनजीटी के डर से हम लोगों का कोयला परिवहन बंद करा दिया है लेकिन एनसीएल अपने फायदे के लिए साइडिंग का कोयला परिवहन बंद नहीं करवा आया जो बिल्कुल गलत है।
  जोगेंद्र सिंह 
कोयला ट्रांसपोर्टर
एनसीएल को बंद करना है तो रोड़ पर चल रहे सारे कोयला परिवहन बंद करें।
अजित सिंह 
कोयला ट्रांसपोर्टर।
एनसीएल ने इस तरह से अचानक रोड़ कोयला परिवहन बंद कर दिया है जिससे हम लोगों को काफी नुकसान हुआ है।
छोटू सिंह 
कोयला ट्रांसपोर्टर
एनसीएल जल्द से जल्द ट्रांसपोर्टरों को कोई दूसरी व्यवस्था दे नहीं तो बड़ा चक्काजाम करने को हम सभी लोग मजबूर हो जाएंगे।
राजेश सिंह 
कोयला ट्रांसपोर्टर।
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget