लोकलाज के डर से प्रेमी ने ही गलाघोंट कर प्रेमिका की हत्या कर फेक दिया नाले में

सिंगरौली विन्ध्यनगर पुलिस ने NCL जयंत मुख्य महा प्रबंधक कार्यालय के पास नाले से बरामद नाबालिग किशोरी की अंधी हत्या के आरोपी प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।
मामले का खुलासा करते हुए नवागत पुलिस अधीक्षक अविजीत रंजन ने आज बताया कि गत 31 मई को को जयंत पुलिस चौकी प्रभारी को फरियादी विपिन कुमार गुप्ता ने सूचना दी थी कि वह जयंत सीजीएम ऑफिस के पास नाले में एक किशोरी की लाश पड़ी है।जिसकी सूचना जिले के पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक अनिल सोनकर को दी गई।विन्ध्यनगर थाना प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार पाण्डेय ने दल बल के साथ मौके पर पहुंचे।जहां मृतिका का शव का पंच नामा तैयार कर शव जिला चिकित्सालय में अन्त्य परीक्षण हेतु ले जाया गया ,जहाँ चिकित्सकों ने गला दबाकर हत्या करने का मामला प्रतीत होना बताया।

जाँच के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ विन्ध्यनगर थाना में अपराध क्रमांक 248/19 भादवि की धारा 302,201 दर्ज कर जांच शुरू कर दी। और जगह- जगह लगे सीसीटीवी फुटेज चेक करने लगी और मृतिका के सहेलियों से पूछताछ शुरू कर दी। साथ ही आरोपी और मृतिका के मोबाइल लोकेशन भी ट्रेस किये गए। जिसमें दोनों के एक साथ रहने एवं बातचीत के साक्ष्य पाये गए। पुलिस अधीक्षक रंजन ने बताया कि हत्या आरोपी राजेंद्र बाबू उर्फ अन्ना खैरवार पिता राम जतन खैरवार उम्र 24 साल निवासी अम्बेडकर नगर थाना शक्तिनगर यूपी का मृतिका आरती पुत्री राम जनम गोड़ उम्र 16 साल निवासी ज्वालामुखी मंदिर के सामने थाना शक्तिनगर जिला सोनभद्र यूपी से प्रेम संबंध चल रहा था।हत्या आरोपी गत 26 मई की रात प्रेमिका को मोटर साइकिल से अपने घर ले गया।30 मई को रात्रि आरोपी ने मृतिका को उसके घर छोड़ने के लिए बोला तो प्रेमिका बोली की वह घर नही जाएगी उसी के साथ रहेगी और आरोपी के ऊपर शादी का दबाव बनाने लगी। जबकि आरोपी अन्ना की शादी छत्तीसगढ़ में तय हो चुकी थीं। आरोपी प्रेमिका से पीछा छुड़ाने एवं बदनामी से बचने अपने घर पर ही रस्सी से प्रेमिका की गला घोंटकर हत्या कर दी।और देर रात 2.30 से 3 बजे के बीच अपने जेनस्टीलो कार न. यूपी 64 एन 5053 से शव को जयंत सीजीएम ऑफिस के बगल वाले नाले में लाकर फेक दिया।

पुलिस ने जाँच के आधार पर हत्या आरोपी प्रेमी के खिलाफ भादवि की धारा 363, 366 (क),376 (2)(एन) एवं 5/6 पॉस्को एक्ट की धारा बढ़ाई।पुलिस द्वारा मृतिका के घर लाने में उपयोग की गई बुलेट मोटर साइकिल,कार, रस्सी ,मृतिका के कपड़े जप्त किये गए।

अन्धी हत्या के खुलासे में विन्ध्यनगर थाना प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार पाण्डेय, जयंत चौकी प्रभारी रामायण प्रसाद मिश्र, सहायक उप निरीक्षक नारायण प्रसाद तिवारी,प्रधान आरक्षक वीरेन्द्र त्रिपाठी, रामायण द्विवेदी, प्रमोद तिवारी, सूर्यभान साकेत,नूर आलम कमल जागीरदार, आरक्षक प्रकाश सिंह, शिवम सिंह का महत्वपूर्ण योगदान रहा।
रिपोटर-धर्मेन्द शाह



Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget