कन्या विवाह : गरीबों कि मदद करके दिल को मिलता है सुकून - अंजनी सिंह


धानापुर।। क्षेत्र के खड़ान गाँव स्थित सिद्धपीठ तपोभूमि बाबा प्रसन्नदास जी महाराज के समाधी स्थल पर बरहन गाँव निवासी कुमारी धनवर्षा पुत्री वीरेंद्र बिंद का विवाह पवन बिंद पुत्र प्रभु बिंद कुषहा मुर्लीपुर के साथ सम्पन्न कराया गया। कन्या के पिता गरीब हैं जो मजदूरी कर अपने परिवार का जीवन यापन करते हैं निर्धन कन्या के मदद को आगे आकर किसानों नौजवानों के चहेता राष्ट्रसेवी अंजनी सिंह ने विवाह में मदद स्वरूप घराती बाराती सबको जलपान भोजन कि व्यवस्था कराते हुए लड़की को कन्यादान स्वरूप कपड़ा बर्तन बक्सा पंखा इत्यादि सामान उपहार भेंट किया। 


बताते चलें कि वर्ष दो हजार सात में अंजनी सिंह ने अपने पैसे से हर साल पाँच गरीब कन्याओं कि शादी बाबा के समाधी पर कराने का घोषणा किया था तभी से अनवरत शादी कि परम्परा मंदिर पर चली आ रही है बीच के वर्षों में क्षेत्रिय विधायक सुशील सिंह एमएलसी ब्रीजेस सिंह का भी मंदिर पर विवाह कराने में सहयोग मिला था। तब ग्यारह एक्कीस एक्यावन लड़कियों कि शादी मंदिर पर हुआ करती थीं। 

विवाह के दौरान सिद्धपीठ समिति के बचाऊ सिंह विश्वनाथन लहरी प्रेम सिंह बिट्टू सिंह शिवम सिंह शिवा संजय सिंह गुरुदयाल बिंद ओमप्रकाश हरीचरन सरकार पन्ना विश्वकर्मा विजयी पुजारी हरपाल बिंद आदि उपस्थित रहे।

Reactions:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget