बिरला प्रबंधन द्वारा विस्थापितों से किए गए वादे पूरे न हुए तो होगी आर-पार की जंग-! - के.सी.शर्मा

फोटो : उर्जांचल टाइगर 

महान परियोजना के गेट नं.3 पर हजारों  विस्थापितों की हुई जन सभा में आंदोलनकारियों ने भरी हुंकार-!


बरगवां/सिंगरौली।। महान परियोजना के "विस्थापित एवं श्रमिक संघ" द्वारा आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए "उद्वासित किसान मजदूर परिषद" के राष्ट्रीय अध्यक्ष के.सी.शर्मा ने कहा कि इस परियोजना के हजारों विस्थापितों के स्थिति बद से बद्तर हो गई है। 

विस्थापित मजदुर भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं उन्हें जिस पुनर्वास बस्ती मझिगवां में बसाया गया है, उस बस्ती की हालत अत्यंत दयनीय है।जहां बिजली पानी शिक्षा चिकित्सा आदि मूलभूत सुविधाएं भी उन्हें मुहैया नहीं हैं।मकानों के स्थिति इतना जर्जर हो चुकी है,की बरसात का पूरा पानी छत से टपकता है। मकान कब धरासाई हो जाएगा कहना बड़ा मुश्किल है। 

शर्मा ने महान परियोजना के प्रबंधक यशवंत सिंह का उल्लेख करते हुए चेतावनी भरे लहजे में कहा कि वे अपने रवैए में परिवर्तन लाएं और विस्थापितों एवं श्रमिकों का शोषण व उत्पीड़न करना बंद करें, अन्यथा यही रवैया जारी रहा तो इसके गंभीर परिणाम उन्हें भुगतने पड़ सकते हैं। क्योंकि विस्थापितों एवं श्रमिकों में उनके प्रति गहरा असंतोष व आक्रोश व्याप्त है।

उन्होंने बिरला प्रबंधन को चेतावनी देते हुए कहा कि समय रहते बिरला प्रबंधन विस्थापितों एवं श्रमिकों के हित में किए गए करारनामे के अनुसार पहल करने का कदम उठाए,वरना विस्थापितों के हक हकूक दिलाने के लिए आर - पार का राजनैतिक "जंग" का ऐलान किया जाएगा।

स्थापित कंपनियों से सीखें विस्थापितों के लिए क्या करना चाहिए 

कोयला श्रमिक सभा (एचएमएस) के महामंत्री अशोक कुमार पांडेय ने कहा कि बिड़ला ग्रुप के इस कंपनी के प्रबंधन के लोग विस्थापितों व श्रमिकों के साथ नाइंसाफी और उनके हितों की अनदेखी कर रहे हैं,यदि वे इसमें सुधार नहीं लाते हैं तो उनका कोल परिवहन ठप्प करा दिया जाएगा।

कोयला श्रमिक सभा के अध्यक्ष एस के सक्सेना ने कहा कि बगल में पब्लिक सेक्टर के स्थापित एनसीएल एनटीपीसी की परियोजनाओं के विस्थापितों को जाकर यहां का प्रबंधन देखे,तब उसे समझ में आएगा कि हमें अपने परियोजना के विस्थापितों के लिए क्या करना चाहिए।यदि वे ऐसा नहीं करते हैं तो विस्थापित एवं श्रमिक संगठित तरीके से उनका विरोध करने के लिए सड़कों पर उतरे हमारा संगठन उनके साथ खड़ा रहेगा।

इसके अतिरिक्त अन्य प्रमुख वक्ताओं में नारायण दास विश्वकर्मा अध्यक्ष "विस्थापित व श्रमिक संघ", राकेश पाण्डेय जिलाध्यक्ष "संयुक्त श्रमजीवी पत्रकार महासंघ",मोहर सिंह गुर्जर,गौरव प्रताप सिंह,बृजेश विश्वकर्मा, कैलाशपति, नागेश्वर जायसवाल आदि थे।

जनसभा की अध्यक्षता विस्थापित एवं श्रमिक संघ के अध्यक्ष नारायण दास विश्वकर्मा व संचालन बृजेश विश्वकर्मा ने किया।

इस मौके पर एसडीओपी डॉ. कृपा शंकर द्विवेदी एवं टी आई बरगवां अनिल उपाध्याय के नेतृत्व में भारी पुलिस बल सुरक्षा व्यवस्था में मौजूद रहे।

Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget