रफ्तार का कहर : साहेब, थक गए है लाशें गिनते-गिनते कुछ तो कीजिए !


मोरवा (सिंगरौली)।। ट्रक और ट्रेलरों के लापरवाह चालकों के रफ्तार का कहर आम जनों और उनके परिवारों पर टूट रहा है। आए दिन सड़क दुर्घटनाओं में लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ रही है। ताजा मामला मोरवा का है, जहां एक ही दिन हुए 2 सड़क हादसों में 2 लोगों ने अपनी जान गवा दी। 



मंगलवार दोपहर शुक्ला मोड़ में संतोष साहू की मौत सड़क दुर्घटना में हुई थी, जिसके बाद उसी रात करीब 11:45 पर रेलवे स्टेशन से पैदल घर लौट रहे कठास निवासी यदुवंश साकेत की टककर तेज रफ्तार आ रही ट्रेलर से हो गई। टेलर के धक्के से घायल यदुवंश साकेत ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।


जानकारी अनुसार मृतक यदुवंश साकेत रेलवे स्टेशन पर कुली का काम करता था जो रात इंटरसिटी के आने के बाद अपने पुत्र संजय साकेत के साथ घर लौट रहा था की रोड क्रॉस करते समय देवी होटल के पास गोरबी की ओर से आ रहे तेज रफ्तार ट्रेलर क्रमांक UP 64AT 3226 की चपेेट में आ गया। पिता की मदद के लिए उसका पुत्र संजय साकेत आया परंतु सिर पर गंभीर चोटें आने के कारण घटनास्थल पर ही उसके पिता ने दम तोड़़ दिया था। इसकी सूचना उसकेे पुत्र डायल 100 को दी, जिसके बाद मौके पर पहुंचे निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह व डायल 100 के पुलिसकर्मियों ने शव को केंद्रीय चिकित्सालय में रखवाकर आरोपी ट्रेलर चालक के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध कर तलाश शुरू कर दी। 

बताया जाता है कि रेलवे स्टेशन पर कुली का कार्य करने वाले यदुवंश साकेत का भरा पूरा परिवार था, जिनके भरण-पोषण की जिम्मेदारी उनकेे कंधों पर थी। 
अंत मे आम जनता की वेदना, कब तक ट्रक और ट्रेलर लेगा बेगुनाह की जान? साहेब थक गए है लाशें गिनते गिनते कुछ तो कीजिए गरीबों के लिए भी?
श्रीराम विश्वकर्मा की रिपोर्ट 

Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget