अरुण जेटली जी के जाने से मैंने अपना एक मूल्यवान मित्र खो दिया- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी


पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन दोपहर 12 बजकर सात मिनट पर एम्स में हो गया। उनका कुछ सप्ताह से अस्पताल में इलाज चल रहा था। वह नौ अगस्त को एम्स में भर्ती हुए थे।66 साल के अरुण जेटली काफी वक़्त से गंभीर रूप से बीमार थे जिसके चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अरुण जेटली को पिछले 15 दिनों से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। अस्पताल में भर्ती करते समय ही डॉक्टर्स ने उनकी हालत बेहद नाजुक बताई थी।

उनके निधन की जानकारी मिलते ही तमाम नेताओं ने ट्वीट करके अपनी संवेदनाएं जताते हुए दुःख प्रकट किया है 

अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जेटली को समाज का हर तबका पसंद करता था। उन्होंने कहा कि वह एक बहुआयामी व्यक्तित्व वाले, संविधान, इतिहास, लोक नीति, शासन और प्रशासन के प्रखर ज्ञाता थे।

उन्होंने कहा, ‘‘अरुण जेटली जी के जाने से मैंने अपना एक मूल्यवान मित्र खो दिया, जिन्हें दशकों से जानने का मुझे सौभाग्य प्राप्त था। उनमें मुद्दों को लेकर जो अंतर्दृष्टि और चीजों की समझ थी, वह विरले ही किसी में देखने को मिलती है। उन्होंने जीवन को भरपूर जिया और हम सभी के दिलों में अनगिनत खुशी के लम्हे छोड़ गये! हम उन्हें याद करेंगे।’’
 सोनिया गांधी ने एक बयान में जेटली के निधन पर दुख जताते हुए कहा, 'जेटली ने एक सार्वजनिक व्यक्तित्व, सांसद और मंत्री के रूप में लंबे समय तक सेवाएं दीं। सार्वजनिक जीवन में उनके योगदान को हमेशा याद किया जायेगा।'
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget