GDP रैकिंग लुढका, भारत अब दुनिया की पांचवीं नहीं सातवीं बड़ी अर्थव्यवस्था


  • 2018 की जीडीपी की वैश्विक रैंकिंग में भारतीय अर्थव्यवस्था फिसलकर सातवें नंबर पर आ गई
  • वर्ल्ड बैंक के जुटाए आंकड़ों के हिसाब से ब्रिटेन और फ्रांस क्रमशः पांचवें और छठे स्थान पर पहुंचे
  • 20.5 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ टॉप पर बना हुआ है US
  • भारत की जीडीपी 2.7 ट्रिलियन डॉलर दर्ज की गई
नई दिल्लीभारत अब विश्व की पांचवी सबसे बड़ी इकॉनमी नहीं है सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी की वैश्विक रैंकिंग में भारतीय अर्थव्यवस्था पांचवे नंबर से फिसलकर सातवें नंबर पर आ गई है। वित्त वर्ष 2018 के लिए विश्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक जीडीपी के मामले में भारत सातवें नंबर पर,जबकि ब्रिटेन और फ्रांस क्रमशः पांचवें और छठे स्थान पर पहुंच गए हैं। साल 2017 में भारत फ्रांस को पछाड़कर आगे पहुंचा था, लेकिन इस बार फिसल गया है।



जीडीपी के मामले में अमेरिकी अर्थव्यवस्था टॉप पर बनी हुई है। कारोबारी साल 2018 में यूएस की जीडीपी 20.5 ट्रिलियन डॉलर रही। अमेरिका के बाद दसरे पायदान पर चीन है। इस दौरान चीन की जीडीपी 13.6 ट्रिलियन डॉलर रही। 5 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ जापान तीसरे पायदान पर है। ब्रिटेन और फ्रांस 2.8 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ इस लिस्ट में पांचवें और छठे पायदान पर हैं, जबकि भारत की जीडीपी 2.7 ट्रिलियन डॉलर दर्ज की गई। 

इकनॉमिस्ट्स का कहना है कि वित्त वर्ष 2018 में भारतीय अर्थव्यवस्था के फिसलकर सातवें स्थान पर पहुंचने का मुख्य कारण रुपये के स्तर पर उतार-चढ़ाव और धीमी ग्रोथ है। इंडिया रेटिंग्स ऐंड रीसर्च में चीफ इकनॉमिस्ट देवेंद्र पंत ने कहा, '2017 में रुपया डॉलर के मुकाबले काफी मजबूत हुआ था लेकिन 2018 में इसमें कमजोरी दर्ज की गई। लिहाजा, जीडीपी रैंकिंग में फिसलने के पीछे कमजोर रुपया और ग्रोथ में सुस्ती माना जा रहा है ।

Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget