बारिश ने खोली नगर निगम की पोल,शहर की नालियां जाम सड़को पर बह रहा पानी


दिनेश पाण्डेय 

सिंगरौली।। सोमवार को हुई बारिश ने नगर निगम के पुराने जख्म को फिर कुरेद दिया।हर साल की तरह इस साल भी शहर की तमाम सड़कें,नालियां व मोहल्ले जलमग्न हो गईं और एक बार फिर नगर निगम के बड़े-बड़े दावे धराशायी हो गए। 

नालियों में भरा कचरा और सीवर की गंदगी जहां-तहां सड़कों पर बहती रही। कई जगह दुकानों और घरों में बारिश का पानी घुसने से लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ी।वहीं शहर में जगह-जगह खुदी पड़ी सड़कों पर पानी भरने से स्थिति और खराब हो गई है।बतादे की सड़को के किनारे सीवर लाइन बिछाने को लेकर नगर निगम द्वारा खोदाई की गड्ढों में पानी भरने से अब इन सड़कों पर पैदल चलना भी दूभर हो गया है।बारिश में जलभराव व सीवर लाइन के लिए सड़क के किनारे खोदाई की गई बड़े बड़े गड्ढो की समस्या इस शहर के लिए नासूर बन गई है।जिसका समाधान आजतक न कोई सरकार निकाल पाई और न ही नगर निगम। 

सोमवार को हुई बारिश में यह बात एक बार फिर साबित हुई।सड़कों पर पानी भरने से जगह-जगह लोग परेशान दिखे।सबसे बुरी स्थिति तो नगर निगम कार्यालय के बगल में जिला मुख्यालय के पास माजन मोड़ में देखने को मिला जहाँ पूरी नालियां जाम थी,नाली का पानी रोड के उपर से बहते हुए दुकानों होटलो में भर गया।

करोड़ो रूपये नगर निगम अधिकारी और ठेकेदार मिल कर खा गये, जिसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिये।

शहर व मोहल्ले के लोगो का गुस्सा भी नगर निगम के अधिकारियों प्रति देखने को मिला।उनका मानना है कि सरकार के द्वारा दिये गये करोड़ो रूपये नगर निगम के सम्बन्धित अधिकारी और ठेकेदार मिल कर खा गये जिसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिये। शहर से लेकर गली मोहल्ले तक के सड़कों को खोदवा कर सीवर के बड़े बड़े गड्ढे खोद कर नगर निगम द्वारा छोड़ दिया गया है।जहां आज स्थिति यह है कि गाड़ी तो दूर अब पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है।

बैढ़न के गनियारी मोहल्ले में नाली जाम होने के बजह से दर्जनों घरो में कचड़ायुक्त बरसाती पानी घुस गया।हल्के बारिश में ही जिस तरह से शहर में जगह जगह जलभराव हुआ है नालियां जाम है नालियों का पानी सड़को पर बह रहा है,जो नगर निगम के कार्यो का पोल खोलते हुये अबतक किये गये भ्रष्टाचार को उजागर करता है।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget