सिंगरौली : बेटियां नहीं सुरक्षित, मामा ही निकला भांजी का अपहरणकर्ता


ओम प्रकाश शाह 

सिंगरौली। 9 वर्षीय मासूम बच्ची का अपहरण करने वाले कंस मामा पुलिस के हत्थे चढ़ा।बताया जाता है की मासूम बालिका की माँ का अपने भाई से विवाद चल रहा था जिसको लेकर बालिका के मामा ने अपने जीजा के साथ मिलकर अपहरण जैसा कदम उठाया।


कैसे चढ़ा पुलिस के हत्थे अपहरणकर्ता

पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए बताया की, बीते रविवार को 9 वर्षीय मासूम बालिका अपनी मौसी राधा के घर से अपने घर जाने के दौरान रास्ते में ग़ायब हो गयी जिसकी रिपोर्ट लिखवाने मां कोतवाली पहुँची जहाँ उक्त घटना के बारे में बताते हुये रिपोर्ट दर्ज कराई,कोतवाली पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुये अप.क्र. 551/19 धारा 363 पंजीबध्द करते हुये  मासूम बालिका की खोज में लग गयी।
मोबाइल सर्विलांस व CCTV  कैमरे की फुटेज की मदद से  रेनू सागर अनपरा पहुँची जहाँ 9 वर्षीय मासूम बच्ची को आरोपियों की चंगुल से सफलता पूर्वक बचा लिया गया।
आरोपी दिपु भारती पिता भोला प्रसाद भारती उम्र 22 वर्ष निवासी अनपरा व दूसरा आरोपी साहिल उर्फ़ मोनू पिता स्व. अंजनी भारती उम्र 25 वर्ष निवासी खजुरी थाना दुधी जिला सोनभद्र ( उ.प्र.),आरोपी  के पास से बाइक UP 64 J 9934 ,कपड़ा एंव मोबाइल फोन बरामद हुआ।

सिंगरौली जिले में बेटियां सुरक्षित नहीं 

सिंगरौली पुलिस इन दिनों अपराध के मामलों का खुलासा कर अपनी पीठ तो खूब थपथपा लेती है,लेकिन हकीक़त तो यह है की सिंगरौली जिले में बेटियां सुरक्षित नहीं और अपराधियों के हौसले बुलंद है। वर्ष 2019 के छह महीने में 60 अपहरण, 55 बलात्कार व 16 हत्या के आंकड़े चीख चीख कर यह बयां कर रहा है।

Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget