विस्थापन नीति से स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध हो। - कमलेश्वर पटेल


अब्दुल रशीद
विन्ध्याचल सुपर थर्मल विद्युत परियोजना विन्ध्यनगर में आयोजित कार्यशाला फ्लाई ऐश का पर्यावरणीय प्रबंधन उपयोग एवं भावी संभावनाएं की कार्यशाला में म.प्र.शासन के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा लोक निर्माण एवं पर्यावरण मंत्री और मंत्री कमलेश्वर पटेल पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग बतौर आतिथ्य में शिरकत किए।
मंत्री  कमलेश्वर पटेल (पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग)
  • जब जल, जंगल एवं जमीन के समन्वय होंगे तभी एक अच्छी हरित विकास होगा। 
  • जहां हम एक तरफ कोयला निकाल रहे हैं उस बड़े गड्ढे का भराव नहीं करेंगे तो एक बड़ी दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है तथा प्रदूषित केमिकलों को सही तरह से डिस्पोजल करने हेतु एक अच्छी प्लानिंग तैयार करनी चाहिए जिससे हमारा पर्यावरण प्रभावित न हो। 
  • जब हम कोई उद्योग स्थापित करें तो सभी नियमों का पालन भी करें जिसके तहत विस्थापन नीति स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध हो। 
  • पर्यावरण के लिए ठोस कदम उठायें, ताकि विस्थापित होने वाले व्यक्तियों के लिए लाभ प्रदान हो सके। 
  • एक दशक बीत गये अभी तक सीधी,सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग का अधूरा निर्माण पड़ा हुआ है। जिससे आवागमन के लिए अत्यंत कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। इसे सही कराने हेतु लोक निर्माण मंत्री होने के नाते आज से मैं आग्रह कर रहा हूं। 
  • फ्लाई ऐश के उपयोग से संबंधित जो भी पंचायत एवं ग्रामीण विकास के लिए आवश्यक होगा वह शीघ्र पूर्ण किया जायेगा।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget