कोनिया की प्रसिद्ध नक्कटैया शोभायात्रा में उमड़ा जनसैलाब

फोटो:उर्जांचल टाइगर 

सहयोगी रीता द्विवेदी के साथ अंकुर पटेल (विशेष संवाददाता)

रामलीला के स्थापना के 50 वर्ष पूरे होने पर नक्कटैया जुलूस का उद्घाटन शहर दक्षिणी विधायक प्रतिनिधि आलोक श्रीवास्तव ने फीता काटकर काशी रेलवे स्टेशन से किया गया। इस दौरान संस्थापक प्रेमचंद कुशवाहा, एवं भोली लाल कुशवाहा, शहर दक्षिणी विधायक प्रतिनिधि आलोक श्रीवास्तव, क्षेत्रीय पार्षद शिव प्रकाश मौर्य एवं अध्यक्ष रामाशंकर सिंह, महामंत्री दिलीप कुशवाहा, ऋतुराज सिंह, शिव कुमार अग्रहरी, जमुना प्रसाद मौर्या, बेचन लाल आदि लोग उपस्थित रहे।
"मेला क्षेत्र में भक्ति गीतों सहित सतरंगी प्रकाश से रहा गुलजार। स्वच्छता ,अंतरिक्ष यान ,कृष्ण की रासलीला पर आधारित स्वांग रहे आकर्षण का केंद्र"
मेला क्षेत्र श्रद्धालुओं की काफी अधिक संख्या में भीड़ रही। सड़कों के किनारे स्थित भवनों के बरामदे पर भी लोग लाग विमान और स्वांग को देखने के लिए जमा थे। मेला क्षेत्र में रेवड़ी, चूड़ा, पकौड़ी, चार्ट ,घरेलू तथा श्रृंगार प्रसाधन की वस्तुओं की अस्थाई दुकानें सड़कों किनारे लगी रही। मेला क्षेत्र में सुरक्षा के दृष्टि से पुलिस जवानों की तैनाती भी की गई थी।

उधर नखकटैया जुलूस उद्घाटन होने के बाद गाजे बाजे के साथ काशी स्टेशन से राजघाट की ओर बढ़ा जुलूस के आगे ऊंट घोड़ा बैंड बाजा स्वरूप चल रहे थे, इसके पीछे लगभग 45 लाग विमान, स्वांग और अंत में रथ पर सवार होकर खरदूषड़ अपनी सेना के साथ चल रहा था। जुलूस में शिव पार्वती सही देश की ज्वलंत समस्या भ्रष्टाचार, महिला उत्पीड़न, बेटी पढ़ाओ, स्वच्छ भारत अभियान, चंद्रयान 2, श्री कृष्ण की रासलीला पर आधारित स्वांग को लोग देखने को आतुर रहे।

नखकटैया जुलूस काशी स्टेशन से नया महादेव, भैसासुर घाट होते हुए जीटी रोड पंचायतिया कुँवा, कोनिया धोभी घाट होते हुए कज्जाकपुरा चौराहा पुलिस चौकी स्थित लीला स्थल पर पहुँच कर समाप्त हुआ।

Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget