जिनकी ज़िम्मेदारी है यातायात नियम का पालन कराना,वो ही तोड़ रहे नियम


बैढन कार्यालय 

सिंगरौली। कानून के रखवाले ही जब कानून तोड़ेंगें तो आम जनता से क्या उम्मीद किया जाए! जी हां सिंगरौली जिले मे जहां एक तरफ पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन जगह-जगह कैप्म लगाकर व स्कुलो में जगाकर यातायात नियमो के बारे में लोगो को जागरूक करते हुये यातायात नियमो का पालन करने को कह रहे हैं। वहीं  दूसरी तरफ यातायात के कुछ सिपाही यातायात नियमो की धज्जिया उड़ाने में कोई कसर नही छोड़ रहे है।
जगह-जगह व कई चौराहे पर पोस्टर भी लगवाये गये लेकिन आचर्य की बात है यातायात के कुछ पुलिस कर्मी बिना हेलमेट लगाये चलते है।
ऐसे  तस्वीरों से तो यही अंदाजा लगाया जा सकता है कि शायद यह ट्रेफिक रूल आमजन के लिए बने है और कानून के रखवालों का इनसे कोई लेना-देना नही है। अगर, यह नियम सभी के लिए एक समान है तो किसने इन्हें नियमों की अवहेलना करने का हक दिया? क्यों ऐेसे पुलिस अधिकारियों पर नकेल नहीं कसी जाती? क्यों ऐसी गलतियों पर ट्रेफिक पुलिस भी चुप्पी साधे हुए है? क्या समय-समय पर आमजन की गलतियों पर चालन काटना ही ट्रेफिक पुलिस का काम है या इससे हटकर भी उनकी कोई जिम्मेंदारी है। आखिर कब तक अपने कंधों पर लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी उठाने वाले पुलिस अधिकारी और कर्मचारी आमजन को मूर्ख बनाते रहेंगें या स्वंय भी कुछ सबक लेंगें।
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget