मेहमान पक्षियों का अध्ययन करेगी मुंबई की संस्था बीएनएचएस।


मुकेश कुमार,ब्यूरो बिहार

बिहार(पटना)।विदेशी पक्षियों पर अध्ययन को लेकर केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय गंभीर है। इसी कड़ी में मंत्रालय ने जमुई जिले के झाझा स्थित नागी-नकटी डैम पर बर्ड रिगिग स्टेशन सेटअप की हरी झंडी दी है।बीआरएस स्थापित करने की जिम्मेवारी फ्लाई वे अध्ययन के क्षेत्र में काम कर रही मुंबई की प्रतिष्ठित संस्था बीएनएचएस को दी गई है।इस दौरान मुंबई नेचुरल हिस्ट्री सोसाइटी के विशेषज्ञों द्वारा सेंट्रल एशियन लाईवे का अध्ययन किए जाने के साथ-साथ युवकों एवं वन कर्मियों को बर्ड रिगिग के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके पहले बीएनएचएस तमिलनाडु स्थित प्वाइंट कैलिमा,उड़ीसा स्थित चींका-लिका तथा राजस्थान के भरतपुर में बीआरएस पर काम कर रही है।

जमुई का नागी-नकटी बीएनएचएस के लिए चौथा बीआरएस प्वाइंट होगा। यहां यह बताना लाजिमी है कि जाड़े का मौसम प्रारंभ होते ही झाझा स्थित नागी-नकटी डैम के अलावा चकाई के अजय डैम में विदेशी पक्षियों का आगमन होता है और जाड़ा समाप्त होने से पूर्व यहां से अन्य स्थान के लिए कूच कर जाते हैं।

क्या है बर्ड रिगिग स्टेशन 

बर्ड रिगिग स्टेशन से पक्षियों के पांव में एक विशेष प्रकार का रिग डाला जाता है जिसके माध्यम से पक्षियों के प्रवास के तौर-तरीकों का अध्ययन किया जाता है। अध्ययन के पश्चात विदेशी पक्षियों के अनुकूल सुविधाएं उपलब्ध कराने की कवायद की जाती है।

विश्व में है नौ लाईवे 

विश्व के नौ लाईवे में एक सेंट्रल एशियन लाईवे है। इसका अध्ययन किया जाना है। 24 प्रकार के पक्षी रसिया और यूरोप से अत्यधिक ठंड बढ़ने के उपरांत हिदुस्तान खासकर बिहार के विभिन्न क्षेत्रों का रुख करती है। यहां जाड़े के ढाई तीन महीने प्रवासी पक्षियों का प्रवास होता है। इसके प्रवास के तौर-तरीके के अध्ययन को लेकर बर्ड रिगिग स्टेशन की स्वीकृति केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय से मिली है - नीता साह, मुंबई नेचुरल हिस्ट्री सोसाइटी, मुंबई।
मुंबई की प्रतिष्ठित संस्था बीएनएचएस के विशेषज्ञ नागी नकटी में बीआरएस के विशेषज्ञ प्रवासी पक्षियों तथा लाईवे का अध्ययन करेंगे। साथ ही इच्छुक युवकों एवं वन कर्मियों को बर्ड रिगिग प्रशिक्षण दिया जाएगा।  
सत्यजीत कुमार, वन प्रमंडल पदाधिकारी, जमुई
Labels:
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget