संविधान भारत की आत्मा, इसे शुद्ध रखें - मुख्यमंत्री कमल नाथ

India is all set to celebrate its 71st Republic Day on January 26.


मुख्यमंत्री कमल नाथ ने गणतंत्र दिवस पर नागरिकों को बधाई और शुभकामनाएँ दी हैं। मुख्यमंत्री ने शुभकामना संदेश में कहा कि राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस भारत के संविधान में आस्था व्यक्त करने का दिन है। उन्होंने कहा कि 1950 से लागू संविधान भारत के गण की आत्मा बन चुका है। आत्मा को शुद्ध रखना, सुरक्षित रखना और इसे बुराईयों से बचाना हर नागरिक का कर्तव्य है।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि अशुद्ध आत्मा के साथ शरीर दीर्घायु नहीं रह सकता। प्रगति और समृद्धि के लिए शरीर और आत्मा दोनों का स्वास्थ्य बेहतर होना जरूरी है। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने नागरिकों का आव्हान किया अपने संवैधानिक कर्तव्यों का पालन करते हुए गणतंत्र को और मजबूत बनाएं।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget