"बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ" का नारा देने वालों को बेटियों की चीख सुनाई नहीं देता?



सिंगरौली। जिले में नही है बेटिया सुरक्षित,मोरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत फिर हुई एक बेटी दरिंदो का शिकार।प्राप्त जानकारी के अनुसार मोरवा थाना क्षेत्र में एक 13 वर्षीय मासूम बेटी को एक 14 वर्षीय लड़के ने बंधक बनाकर लगातार दुष्कर्म किया।मोरवा पुलिस ने पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ धारा 342,363,366,376,(2)(i),376(2) (n) आईपीसी एंव 3/4 पोस्को एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध कर अरोपी की तलाश शुरू की। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके न्यायालय पे पेश किया।

"बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ" का नारा देने वालों को बेटियों की चीख सुनाई नहीं देता?

बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाले जिले में अन्य राजनीतिक मुद्दों पर तो बुलंद आवाज़ से बात रखते हैं,यहां तक कि सांसद महोदया भी सैकड़ों किलोमीटर का सफ़र कर प्रेस कांफ्रेंस करने सिंगरौली पहुंच जाती हैं,लेकिन सिंगरौली जिले में बेटियों की चीख मानो उनको सुनाई ही नहीं देता। वहीं सत्ताधारी पार्टी के नेता सत्ता की खुमारी में ऐसे सो रहें मानो हर तरफ विकास की गंगा बह रही है,और सब कुछ समान्य है बस है।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget