चाचर : ग्रामीण, साहेब हम भी सिंगरौलीवासी हैं,हमारे घरों में उजाला कब होगा?

बिजली विभाग, सिंगरौली, मध्यप्रदेश,ग्राम चाचर

ग्राम चाचर के झिंझि टोला वासियों  को वर्षो बीत गए ट्रांसफार्मर के इंतजार में 
श्रीराम विश्वकर्मा 

सिंगरौली।। जिला मुख्यालय से महज 15 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम चाचर के झिंझि टोला एवं कई अन्य टोलो से ट्रांसफार्मर जल गया था। ट्रांसफार्मर जलने  के बाद बिजली विभाग वाले निकाल के ले गए। बिजली विभाग द्वारा ट्रांसफार्मर जब निकाल कर ले जाया जा रहा था तब शायद ही गांव वालों को यह उम्मीद रही हो होगी के अब उनको देश के महानगरों को रौशन करने के वाले सिंगरौली जिले (ऊर्जाधानी) निवासी कहे जाने वाले सिंगरौली के वासी होने का गौरव तो मिलेगा लेकिन जीवन उनको ढिबरी के सहारे ही बिताना होगा। 


अंधेरे में ढिबरी के सहारे जीवन यापन करना इन ग्रामवासियों की नियति नहीं है बल्कि बिजली विभाग के जिम्मेदार के गैर ज़िम्मेदारी का नतीजा है। अब देखना यह है के गैर ज़िम्मेदारी के कारण अंधेरे में जिंदगी जीने वाले इन ग्रामीणों को न्याय के रूप में रौशनी कब मिलता है? 
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget