Chief Minister Youth Entrepreneur Scheme : मध्यमवर्गीय परिवार का बेटा बना रेस्टोरेंट कारोबारी ।

Chief Minister Youth Entrepreneur Scheme


SUCCESS STORY 

कहा जाता है कि अगर कुछ करने की लगन और जज्बा हो तो किस्मत पलटते देर नहीं लगती। भरोसा खुद पर रखो तो ताकत का एहसास कराता है। अगर इंटरेस्ट और करने की चाह होती है, तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है। ऐसी ही सोच रखने वाले जिले के युवा व्यवसाई ने अपनी प्रिय फील्ड में कदम रखा आज वे शहर के विभिन्न स्थलो में अपने फूड ट्रक के माध्यम से शहर वासियो को लजीज नास्ता उपलब्ध करा रहे है।

ऐसा नही है कि सुमित अपने सपनो के साकार करने के पीछे नही भागे एक मध्यमवर्गी परिवार का सदस्य जब युवा होता है तो उसके माता पिता की ख्वाहिस रहती है कि उनका बेटा पढ़ लिखकर नौकरी करे तथा उनका हाथ बटाये। 

सुमित ने अपनी शिक्षा पूर्ण करने के बाद रोजगार की तलास में दूसरे शहरो में रहे वहा पर उन्होने देखा कि फूड ट्रक रेस्टोरेट के माध्यम से लोगो नास्ता खाना मुहैया कराया जा सकता है। और पास में रहकर अपने माता पिता का दूसरे कार्यो में मदद भी की जा सकती है। लकिन चलित रेस्टोरेंट को खोलने के लिए पूंजी की आवश्यकता होती किंतु सुमित के पास न खुद का पैसा था और न ही परिवार आर्थिक स्थित इतनी अच्छी थी कि सुमित अपना मनचाहा रेस्टोरेंट खोल सके तभी सुमित का मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के संबंध में जानकारी मिली सुमित ने तत्काल उद्योग विभाग से सम्पर्क किया अपना प्रोजेक्ट दिखा उन्हे तत्काल वित्तीय वर्ष 2019-2020 में विजया बैंक से 9 लाख की राशि मिली उससे उन्होने अपने सपनो का रेस्टोरेंट खोला आज वे सफलता के साथ अपना बिजनेश कर रहे है और समय पर बैंक की किस्त भी अदा कर रहे है।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget