सर्वदलीय गौरक्षा प्रचार रथ का वाराणसी में हुआ जोरदार स्वागत।


अंकुर पटेल (विशेष संवाददाता)

सर्वदलीय गौरक्षा मंच द्वारा आयोजित गौ प्रचार रथ विभिन्न जनपदों से होते हुए, आज वाराणसी जनपद में पहुँचा। उसी के उपलक्ष में उत्तर प्रदेश सर्वदलीय गौरक्षा मंच की ओर से इस रथ का स्वागत करते हुए, एक सर्वदलीय गौ भक्त महोत्सव के रूप में भैसासुर घाट पर संत शिरोमणि रविदास मंदिर के पास उस रथ का स्वागत सर्वदलीय गौरक्षा मंच के प्रदेश संयोजक युवा प्रकोष्ठ महेंद्र विक्रम सिहं द्वारा किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जयपाल नयाल और उत्तर प्रदेश महानगर संगठन के समस्त पदाधिकारी गण उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संयोजन कर रहे महेंद्र विक्रम सिंह ने गाय की रक्षा और गायों के उत्पाद से होने वाले फायदे के बारे में बताया।

सर्वदलीय गौरक्षा मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयपाल नयाल जी ने कहा कि सर्वदलीय गौरक्षा मंच विश्व मंगल हेतु पिछले 29 जनवरी बसंत पंचमी से पूरे भारतवर्ष में 1 वर्ष के लिए गो प्रचार रथ द्वारा भारतीय देशी गोवंश के रक्षण और भारतीय देश गोवंश के A2 दूध और पंचगव्य का ही पान के लिए एक अभियान चलाएं हुई है। इस अभियान का नेतृत्व ब्राह्मणों और गौमाता के सेवक स्वयं राष्ट्रीय अध्यक्ष राजर्षि नयाल सनातनी कर रहे हैं । इस अभियान की शुरुआत 1857 की क्रांति ,भूमि उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर के सूरजकुंड बाबा मनोहर नाथ जी की उस गौ आश्रम से हुई है जहां 1857 के क्रांतिकारियों को शरण मिलती थी। वर्तमान में इस आश्रम की संचालिका गुरु महामंडलेश्वर नीलिमानंद जी ने स्वयं त्रिफल द्वारा पूजा एवं आरती करके इस गौ प्रचार रथ का शुभारंभ किया तथा स्वयं मेरठ शहर,देवबंद, हरिद्वार, देहरादून, हिसार, तीर्थराज प्रयाग में प्रचार किया और उन्होंने आगे कहा कि जो भारत भूमि सदा से ही प्राणी मात्र की रक्षा सेवा की भूमि रही है। इसे विश्व का सबसे श्रेष्ठ भूमि इसलिए कहा गया है कि यहां किसी भी जीव जंतु के जीने के अधिकार का उल्लंघन नहीं होता था। मगर आज पाश्चात्य संस्कृति की आंधी में हमारा देश बेतहाशा जीव जंतु की हत्या कर अपने पेट को कब्र बना रहा है। यह हमारी संस्कृति नहीं हो सकती है। अब तो हद गई है कि जिस गोवंश को सनातन धर्म हिंदू पूछते हैं मां-बाप का दर्जा देते हैं आज उन्हीं को काटकर खाने का प्रचलन चल रहा है। यह घोर अंधकार और कलयुग के चरम पर पहुंचने की निशानी ही है।इसे रोकना होगा वरना चीन की तरह खतरनाक वायरस आदि जीव जंतु के लाल मांस से आने वाली अनेकों बीमारिया मांसाहारीयो के वंश के वंश उजार देंगी।

"चीन ने जीव जंतुओं और प्रकृति के साथ छेड़छाड़ कर ऊपर वाले की सत्ता को ललकारा है और बहुत जुल्म किए हैं, परिणाम आज चीन के कई शहर मृत्यु के इंतजार में अपनी आखिरी सांस गिन रहे और अपने द्वारा हुए जो जंतु पर अत्याचार को सोचकर आंसू बहा रहे हैं पर लगता है कि उनकी पुकार ऊपर वाला भी सुनने को तैयार नहीं है ऐसा कुछ भारत में ना हो इस बात की गारंटी सिर्फ जीव जंतु की रक्षा सुरक्षा और प्राकृतिक भोजन प्रणाली दे सकती है।"

भारतीय देसी गाय का दूध A2 क्वालिटी का अति गुणवत्ता वाला होता है। यह वैज्ञानिक सिद्ध कर चुके हैं। इस पर हमारी सर्वदलीय गौरक्षा मंच ने सबसे पहले 2012 में एक डॉक्यूमेंट्री बनाई जो यूट्यूब पर उपलब्ध है,जिसे इंडियन काऊ डॉक्यूमेंट्री सर्च कर देख सकते हैं। जिसमें A2 भारतीय देशी गाय और A1 जर्सी हॉस्टिक, फिजिसियन आदि विदेसी गाय के दूध से होने वाले नुकसान से भली-भांति परिचित हो सकते हैं।

2020 बसंत पंचमी से 2021 बसंत पंचमी तक पूरा 1 वर्ष एक मिनी बस टेंपो ट्रैवलर द्वारा जो मैंने सिर्फ गांव प्रचार हेतु अपनी शुद्ध कमाई से खरीदी है उसके द्वारा ही पूरे भारत देश में लोगों को बताऊंगा कि आप भारतीय देसी गाय के दूध को पिए और विदेशी नस्ल की जगह भारतीय देसी गाय की नस्ल को रखें।

आगामी 2021 के हरिद्वार कुंभ में गौ माता की कृपा हुई तो गौरक्षा मंच एक विशाल पंडाल में 1 महीने तक आश्रम बनाकर करोड़ों कुंभ यात्रियों को भारतीय देसी गाय की महिमा से परिचित कराएगा। इस संबंध में गौरक्षा मंच एवं बाबा मनोहर नाथ आश्रम मेरठ ने संयुक्त रूप से हरिद्वार कुंभ मेला प्रशासन को आवेदन किया है। वर्तमान में गौ माता की असीम अनुकंपा ही है कि देश में देश के प्रधानमंत्री जी से लेकर देश के दर्जनभर राज्यों के मुख्यमंत्रियों को गौ रक्षा अभियान के तहत गौरक्षा वाला अंग वस्त्र वाला पहनाकर गौवंश बचाने की गुहार लगाई है।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ श्रीमती मुक्ता चौधरी,प्रदेश उपाध्यक्ष रोहिणी पांडेय, हरिमोहन पांडेय, प्रतिमा पांडेय एडवोकेट, इंद्रजीत तिवारी, युवा कवि शिरीष उमंग, राकेश चंद्र पांडेय, अहमद रजा आदि लोग उपस्थित रहे। 
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget