सरकार ने PETROL DIESELपर उत्पाद शुल्क तीन रुपये लीटर बढ़ाया।


नई दिल्ली।।सरकार ने पेट्रोल, डीजल पर उत्पाद शुल्क में प्रति लीटर तीन रुपये की वृद्धि कर दी है। इससे एक बार फिर से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई भारी गिरावट का पूरा लाभ उपभोक्ताओं तक नहीं पहुंच पायेगा। अतिरिक्त विशेष उत्पाद शुल्क में की गई इस वृद्धि से सरकार को सालाना आधार पर 39,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व प्राप्त होगा।

सरकार ने 2014-15 की तरह एक बार फिर से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई भारी गिरावट का लाभ पूरी तरह उपभोक्ताओं तक नहीं पहुंचाने का कदम उठाया है।हालांकि जानकारों का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में इस गिरावट का लाभ आम उपभोक्ता को भी मिलना चाहिए था। लेकिन सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है। 

एक आधिकारिक अधिसूचना में कहा गया है कि पेट्रोल पर विशेष उत्पाद शुल्क प्रति लीटर दो रुपये बढ़ाकर आठ रुपये कर दिया है तो वहीं डीजल पर यह शुल्क दो रुपये बढ़कर अब चार रुपये प्रति लीटर हो गया है। 

इसके अलावा पेट्रोल और डीजल पर लगने वाला सड़क उपकर भी एक-एक रुपये प्रति लीटर बढ़ाकर 10 रुपये कर दिया गया है। 

उत्पाद शुल्क में बढ़ोतरी का नतीजा सामान्य तौर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि के रूप में सामने आता है लेकिन यह अंतरराष्ट्रीय दरों में गिरावट के हिसाब से समायोजित हो जाएगी और कीमतों में इजाफा नहीं होगा।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget