साहेब गोली मार दीजिए लेकिन ऐसा दंड नहीं दीजिए - पीड़ित कैदी


बैढ़न(सिंगरौली)।। जिला जेल पचौर में बंद कैदी मटुकधारी विश्वकर्मा उम्र 75 वर्ष निवासी, कचनी  ने जेल प्रशासन पर आरोप लगाते हुये बताया कि जब जेल परिसर में स्थित हॉस्पिटल में सर्दी जुकाम की दवा लेने के लिए निकले तभी आशोक दहिया नामक पुलिस वाले ने धकेला और मारा जेल के कर्मचारी द्वारा हमको धक्का देते हुये मारा जिससे पैर टूट गया। पीड़ित कैदी का उपचार पुराना जिला चिकित्सालय में चल रहा है।
पीड़ित कैदी गलत आरोप लगा रहा है,कैदी के साथ किसी सिपाही ने मारपीट नहीं किया है,जब सभी कैदी अंदर जा रहे थे तभी टक्कर से गिर गया जिससे यह हादसा हुआ।
जेलर इन्द्रदेव तिवारी

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget