मॉरीशस की प्रसिद्ध अभिनेत्री डॉक्टर हौसला देवी रिसोल को मिला विंध्य रत्न सम्मान

मॉरीशस की प्रसिद्ध अभिनेत्री डॉक्टर हौसला देवी रिसोल को मिला विंध्य रत्न सम्मान,SONBHADRA NEWS,


रावर्टसगंज(सोनभद्र)।। विश्व की साहित्य, कला, शिक्षा, संस्कृति की राजधानी वाराणसी में इंटरनेशनल लिबियारम ग्रुप, विंध्य संस्कृति शोध समिति के संयुक्त तत्वाधान में वरुणा बिहार सिकरौल वाराणसी में भारत एवं मॉरीशस के सांस्कृतिक संबंधों को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से इंडो- मॉरीशस गीत गवई अवार्ड, स्वागत समारोह 2020 का रंगारंग कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्यक्रम में साहित्यिक, सामाजिक, सांस्कृतिक संगठन विंध्य संस्कृति शोध समिति उत्तर प्रदेश ट्रस्ट द्वारा मॉरीशस की सुप्रसिद्ध अभिनेत्री, संगीतकार, गीतकार, रंगकर्मी डॉ हौसला देवी रिसोल (प्रतिमा मिश्रा) को विंध्य रत्न, इंटरनेशनल लिबियारम ग्रुप के प्रबंध निदेशक, रंगकर्मी, साहित्यकार, पत्रकार, समाजसेवी, डॉ विजय यादव को अंगवस्त्रम, प्रशस्ति पत्र,आदिवासी बाहुल्य जनपद सोनभद्र की निवासिनी, लेखिका प्रतिभा देवी द्वारा लिखित केंद्रीय हिंदी संस्थान के वित्तीय सहयोग एवं विंध्या न्यूज़ नेटवर्क नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित पुस्तक आदिवासी जीवन भेंट कर सम्मानित किया गया। 

कार्यक्रम में अपना विचार व्यक्त करते हुए इंटरनेशनल लिबियारम ग्रुप के निदेशक रूपेश गुप्ता ने कहा कि-" काशी एवं मॉरीशस की धरती का सांस्कृतिक संबंध काफी पुराना है और मॉरीशस में लघु भारत का रुप देखा जा सकता है, वहां पर बाबा विश्वनाथ आदि मंदिरों सहित गंगा नदी का निर्माण कराया गया है।

विंध्य संस्कृति शोध समिति उत्तर प्रदेश ट्रस्ट के निदेशक दीपक कुमार केसरवानी ने अपना विचार व्यक्त करते हुए कहा कि-" मारीशस में भारतीय संस्कृति की आत्मा निवास करती है और यहां के लोग जो मूल रूप से भारतीय हैं उनके द्वारा आज भी भारतीय धर्म, संस्कृति, परंपराओं का पालन किया जाता है।

विंध्य रत्न से सम्मानित डॉक्टर हौशिला देवी रिशोल ने अपना विचार व्यक्त करते हुए कहा कि-" भोजपुरी हमारी मातृभाषा है, भारत भ्रमण का मेरा उद्देश्य इंडो- मॉरीशस के सांस्कृतिक संबंधों को मजबूती प्रदान करना है, सोनभद्र जनपद के भ्रमण के दौरान मॉरीशस और सोनभद्र के प्राकृतिक दृश्य, उद्योग, कला, संस्कृति में मुझे समानता देखने को मिली।

इस अवसर पर आयोजक संस्था द्वारा मॉरीशस से आए हुए कलाकारों को गीत गवई सम्मान प्रदान कर सम्मानित किया गया एवं इन कलाकारों द्वारा मारीशस में प्रचलित वैवाहिक नृत्य, होली के गीत आकर्षक ढंग से प्रस्तुत कर श्रोताओं का मन मोह लिया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रविदास मंदिर सीर गोवर्धन के महंत भारत भूषण द्वारा डॉक्टर हौशिला देवी रिशोल के गीतों की सीडी भोजपुरी हमार माई बा का विमोचन भी किया गया। 

इस कार्यक्रम में आदिवासी लोक कला केंद्र की सचिव प्रतिभा देवी, सोज संस्था की संस्थापक हर्षिता पाठक, अन्नपूर्णा फाउंडेशन के संस्थापक एस० के० मौर्य,, तेज सिंह मोटर ड्राइविंग स्कूल के संस्थापक अरुण सिंह, फिल्म निर्माता विनोद पांडे, समाजसेवी मंगला प्रसाद गुप्ता, अरुण कुमार तिवारी आदि समाजसेवी, साहित्यकार, पत्रकार, बुद्धिजीवी, नागरिकगण उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का शुभारंभ गणेश वंदना, अतिथियों के माल्यार्पण, आयोजक संस्था के निदेशक के स्वागत भाषण से हुआ कार्यक्रम का संचालन डॉ विजय यादव द्वारा किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों ने काशी की सांस्कृतिक परंपरा के अनुसार हर हर महादेव का नारा लगाते हुए अबीर से जमकर होली खेली।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget