कोतवाली पुलिस ने आधा दर्जन चोरी की घटना को अंजाम देने वाले लुटेरो को धरदबोचा।


सिंगरौली।। पुलिस अधीक्षक तुषारकांत विद्यार्थी के नेतृत्व में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शेन्डे सीएसपी देवेश कुमार पाठक के मार्गदर्शन में ऑपरेशन शिकंजा में निरंतर ऐसे नकबजनी और चोरों को पकड़ने की कार्यवाही की जा रही है, जो कि क्षेत्र में लगातार इस तरह की वारदात कर रहे थे।

थाना कोतवाली क्षेत्र में घटित उक्त घटनाओं के संबंध में कोतवाल प्रभारी को बड़ी सफलता मिली,कोतवाली पुलिस ने मास्टर माइंड सहित पाँच चोरो को पकड़ा,आधा दर्जन चोरियों का किया खुलासा,और आरोपियो के पास से सोना-चांदी,टीवी लैपटाप बरामद करने में सफल रही।

कोतवाली प्रभारी को क्षेत्र में आये दिन चोरी होने की शिकायत मिलती थी जिसपर इन लुटेरो को अपने पंजो में दबोचने के लिए एक टीम बनाकर लुटेरो की खोज में लगा दी,मुखबिर की सूचना पर मुखबिर की बताये हुये जगह पर छापा मार लुटेरो के मास्टर माइंड को धर दबोचा।

लुटेरे मौके की फिरात में रहते और मौका पाते ही सूने घर में डाका डाल चुरा ले जाते कीमती सामान। 

इन लोगो के घरो पर लुट की घटना को दिया था अंजाम
  1. रामप्रताप शाह पिता रामानुज शाह निवासी गहीलरा चौकी खुटार,
  2. संतोष कुमार शाह पिता श्रीकांत शाह निवासी केशव नगर कॉलोनी गनियारी,
  3. जगरूप पिता पूरनलाल निवासी गनियारी, 
  4. राजेंद्र प्रसाद सोनी पिता भगवान दास सोनी निवासी गनियारी, 
  5. सुषमा विश्वकर्मा पिता के एन विश्वकर्मा निवासी हिर्रवाह के घरो में लुटेरो ने डाका डाला था । 
लुटेरे चोरी किये हुये सोना चाँदी की आभूषणों को अनिल कु पिता स्व. रामचरण उम्र 30 वर्ष निवासी बैढ़न के यहाँ बेच देते थे।
पकड़े गये आरोपियों के नाम
  • शिव कुमार पिता उमाशंकर उम्र 19 वर्ष निवासी गनियारी, 
  • आशीष कुमार पिता रामजनम उम्र 24 वर्ष निवासी गनियारी, 
  • सुनील पिता रामजनम उम्र 22 वर्ष निवासी गनियारी एवं 
  • बाल अपचारी परिवर्तित नाम प्रदीप पिता रामगोपाल उम्र 16 वर्ष निवासी गनियारी
लुटेरो के पास से बरामद हुआ सामान

पकड़े गये लुटेरो के पास से करीबन 3 लाख कीमती सामान को बरामद किया है। बताया गया कि बरामद सामानों में सोने चांदी के जेवरात, 2 नग टी व्ही, 2 नग लैपटॉप आदि कई महंगे सामान शामिल है।


कोतवाली पुलिस ने पकड़े गये लुटेरो के उपर अपराध क्रमांक 668/19 धारा 457, 380 भादवी, अपराध क्रमांक 52/20 धारा 457, 380 भादवी, अपराध क्रमांक 279/20 धारा 457, 380 भादवी, अपराध क्रमांक 283/20 धारा 457, 380 भादवी, अपराध क्रमांक 284/20 धारा 457, 380 भादवी कायम कर मामला पंजीबद्ध किया गया।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget