दुद्धी : जब दयनीय दशा में जिंदगी बसर कर रहे मुसहर बस्ती के लोगों की आँखें मददगार को देख चमक उठी।

SONBHADRA NEWS


सोनभद्र कार्यालय

दुध्दी-: जिनका कोई नहीं उनका तो ख़ुदा है यारों, किसी फ़िल्म के मार्मिक गाने की ये पंक्तियां उस समय जीवंत हो उठती हैं जब हमारी नज़रें जाती हैं दुद्धी नगर पंचायत के मुसहर बस्ती पर। लॉकडॉउन के इस दौर में बस्ती के गरीब बाशिंदों की हालत अत्यंत दयनीय है। आजकल बस्ती की बेसहारा, बेबस और लाचार निगाहें उस समय अचानक खुशी के मारे चमक उठती हैं जब उन्हें दीदार होता है अपने मददगार सुभाष व उनकी टीम का। सुभाष और उनकी टीम उनके लिए कई बार खाने पीने व राहत सामग्री के पैकेट जैसे जीवनपयोगी वस्तुएँ लेकर आते हैं। 
ये वही सुभाष हैं जो दुद्धी के रहने वाले एक कर्तव्यनिष्ठ शिक्षक हैं साथ ही दुद्धी में फिजिक्स व मैथ की निःशुल्क कोचिंग भी पढ़ाते हैं।इनके छोटे भाई अविनाश गुप्ता "वाह वाह" भी शिक्षक होने के साथ साथ सक्रिय रूप से सामाजिक सेवा व गतिविधियों में लगे रहते हैं। मुसहर बस्ती के लोग आज भी झुग्गी, झोपड़ी में दयनीय दशा में जीवन यापन करने को विवश हैं। 

इस बाबत पूर्व चेयरमैन कमल कानू ने कहा कि 
हमारे सहयोगी सुभाष के नेतृत्व में निरन्तर मुसहर बस्ती व क्षेत्र के अन्य असहाय क्षेत्रों में खाद्य सामग्री पहुँचा रहे हैं। 
इस टीम में कृपाशंकर कानू, कुमार चंदन,अरविंद,सुमेर, संदीप,छात्रनेता कुन्दन आदि पूरे मनोयोग से राहत कार्य में लगे हुए हैं।
Labels:
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget