गृह मंत्री डॉ मिश्रा ने किया "एफ.आई.आर-आपके द्वार" योजना का शुभारंभ

"एफ.आई.आर-आपके द्वार"


भोपाल। प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने 'एफ.आई.आर-आपके द्वार " योजना का शुभारंभ किया। पाँच दिवस पूर्व डॉ. मिश्रा द्वारा इस संबंध में निर्देश दिये गये थे। पुलिस द्वारा मात्र पाँच दिवस में योजना को अमलीजामा पहनाकर प्रदेश में लागू किया गया है। इस प्रकार की योजना लागू करने वाला देश का पहला राज्य मध्यप्रदेश बन गया है। 

गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने आज नवीन पुलिस कंट्रोल रूम में योजना का शुभारंभ करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण काल में एफ.आई.आर-आपके द्वार योजना से समस्याओं का निवारण आसानी से हो सकेगा। प्राथमिकी दर्ज कराने के लिये जनता को थाने तक नहीं जाना पड़ेगा। थाना उनके द्वार तक पहुँचेगा। पुलिस विभाग की यह योजना मील का पत्थर साबित होगी। 

इस अवसर पर उन्होंने जानकारी दी कि हेल्पलाइन नंबर-112 पर कॉल करने से एम्बुलेंस, पुलिस और अग्निशमन सेवाएँ जनता को तुरंत उपलब्ध हो सकेंगी। 

डायल 100 शिकायतकर्ता के घर जाकर FIR दर्ज करेगी। 

मंत्री डॉ. मिश्रा ने बताया कि "एफ.आई.आर.-आपके द्वार" योजना 11 संभागीय मुख्यालयों के एक शहरी थाना और एक ग्रामीण थाने और गैर संभागीय मुख्यालय दतिया के थाना सहित पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में 23 थानों में प्रारंभ की गई है। उन्होने कहा मध्यप्रदेश प्रदेश की डायल 100 सेवा ने जनता का दिल जीता है। डायल-100 अब-तक पाँच लाख दुर्घटनाग्रस्त लोगों को अस्पताल पहुँचाकर उनकी जान बचा चुकी है। शिकायत प्राप्त होते ही डायल 100 शिकायतकर्ता के घर जाकर एफ.आई.आर. दर्ज करेगी। 

डायल 100 में FIR दर्ज करने के लिये प्रशिक्षित प्रधान आरक्षक रहेंगे। - पुलिस महानिदेशक

पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी ने इस अवसर पर जानकारी दी कि डायल 100 में एफ.आई.आर. दर्ज करने के लिये प्रशिक्षित प्रधान आरक्षक रहेंगे। सामान्य प्रकार की शिकायतों की डायल 100 द्वारा मौके पर ही एफ.आई.आर. दर्ज की जायेगी। गंभीर शिकायतो पर वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन प्राप्त कर निर्णय लिये जायेंगे। उन्होंने बताया कि एफ.आई.आर-आपके द्वार योजना 31 अगस्त तक पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में चलेगी। इसके बाद इसका आंकलन किया जाएगा और व्यवस्था को पुख्ता बनाकर आवश्यक सुधार व परीक्षण उपरांत पूरे प्रदेश में लागू किया जायेगा। 

पहली एफ.आई.आर.सुनील चतुर्वेदी ने दर्ज करायी।

"एफ.आई.आर.-आपके द्वार" योजना के शुभारंभ के बाद डायल 100 के एफआरव्ही - 49 वाहन पर पहली एफ.आई.आर.जवाहरचौक भोपाल के सुनील चतुर्वेदी ने दर्ज करायी। उन्होंने अपनी गाड़ी एमपी 04 एसटी 0959 की चोरी होने संबंधी शिकायत डायल 100 पर की थी।

इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी,अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उपेन्द्र जैन,अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दूरसंचार एस.के.झा,अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कैलाश मकवाना,राजेश चावला व आदर्श कटियार सहित अन्‍य वरिष्ठ पुलिस अधिकारीगण उपस्थित थे। 
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget