MP LOCKDOWN 3 - ग्रीन जोन के 24 जिले भीतर से खुलेंगे, लेकिन सीमाएं बंद रहेंगी - सूत्र


देशभर में दो हफ्ते के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। मप्र सरकार ने 4 मई से सख्ती और शर्ताें के साथ आधे प्रदेश को खोलने की योजना तैयार कर ली है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा व अन्य मंत्रियों के साथ प्रदेश में रेड जोन के 9 जिलों, ऑरेंज जोन के 19 और ग्रीन जोन के 24 जिलों को खोलने पर चर्चा की। इन जिलों के प्रशासन का फीड बैक लिया। अधिकारियों ने छूट की संभावनाओं को प्रस्तावित किया।  
सूत्र बताते हैं कि,ग्रीन जोन के सभी 24 जिलों को भीतर से पूरी तरह से खोल दिया जाएगा, जबकि ऑरेंज जोन में छूट बढ़ाई जाएगी। वहीं रेड जोन के भोपाल-इंदौर समेत बाकी जिलों में शादी समारोहों की छूट मिल सकती है। इसमें लड़का-लड़की के साथ 5 से 10 परिजन शामिल हो सकेंगे। कंटेनमेंट क्षेत्रों को छोड़कर बाकी में इलेक्टॉनिक सामानों की होम डिलीवरी की जा सकेगी।
ऑरेंज जोन 19 जिले

ये छूट मिलेगी 

पूर्व में मिली 33 फीसदी मैन पावर की छूट को बढ़ाया जाएगा। यह 50 फीसदी तक हो सकती है। राशन, खाद्य के साथ आवश्यक वस्तुओं की दुकानों का समय बढ़ेगा। डिस्ट्रिक्ट क्राइसेस ग्रुप के साथ चर्चा के बाद कंटेनमेंट क्षेत्र छोड़कर गतिविधियों को स्वीकृति मिलेगी। 
ये बंद रहेगा 

पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद रखा जा सकता है। निजी वाहनों को मंजूरी मिलेगी। भीड़ एकत्रित होने वाले संस्थान के साथ सिनेमाघर भी बंद रहेंगे।

ग्रीन जोन 24 जिले 

ये छूट मिलेगी

इन जिलों में उद्योगों व ऑफिस में 80% तक स्टाफ को मंजूरी दी जा सकती है। भीतरी गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। अभी ग्रामीण इलाकों में दुकानें खुली हैं, शहरी क्षेत्रों में भी सभी दुकानें खुलेंगी। दुकानों का समय अभी दोपहर 12 बजे था, इसे शाम 4 से 6 बजे तक बढ़ाया जाएगा। फैक्ट्रियां खुलेंगी। राशन, रिपेयरिंग की शॉप, चश्मे की दुकान, इलेक्ट्रॉनिक्स व इलेक्ट्रिकल की दुकानों को खोला जा सकता है।

रेड जोन 9 जिले

ये छूट मिलेगी

कंटेनमेंट क्षेत्र में सख्ती, बाकी जगह मिल सकती है ढील, लड़का-लड़की मिलाकर 5-10 लोगों के साथ शादी समारोह की छूट 3 मई के बाद। ऑफिस 33 फीसदी और उद्योग में 50 फीसदी तक छूट दी जा सकती है। लेकिन उद्योग को यह छूट शर्तों के साथ मिलेगी। कोरोना प्रभावित जिलों से श्रमिक नहीं लेंगे। आने वाले श्रमिकों के रहने व खाने की व्यवस्था हो।

ये बंद रहेगा

पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद रखा जा सकता है। निजी वाहनों को मंजूरी मिलेगी। भीड़ एकत्रित होने वाले संस्थान के साथ सिनेमाघर भी बंद रहेंगे।
पब्लिक ट्रांसपोर्ट के साथ रेडिमेड, ज्वैलरी की दुकानें बंद रहेंगी। मॉल, स्कूल-कॉलेज, धार्मिक स्थल बंद। राजनीतिक कार्यक्रम, बड़े सब्जी, सिनेमाघर भी नहीं खुलेंगे।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget